पूर्व BJP नेता यशवंत सिन्हा ने नोटबंदी को बताया विफल, कहा- ‘हमारे देश में परंपरा नहीं है कि दोषी को चौराहे पर खड़ा करके मारा जाए’

0

दिल्ली में सत्ताधारी आम आदमी पार्टी (आप) की नोएडा रैली के दौरान शनिवार (8 सितंबर) को भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा और बीजेपी छोड़ चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने आम आदमी पार्टी के प्रमुख और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ मंच साझा किया। इस दौरान यशवंत सिन्हा ने बिना नाम लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला। आप नेता संजय सिंह के नेतृत्व में आयोजित पदयात्रा के समापन पर नोएडा में ‘जन अधिकार’ रैली आयोजित की गई थी।

file photo

जन अधिकार रैली में पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने बीजेपी पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि नोटबंदी पूरी तरह से विफल रही। हमारे देश में यह परंपरा नहीं है कि दोषी को चौराहे पर खड़ा करके मारा जाए। हमारे देश में वोट के माध्यम से उन लोगों को दंडित किया जाता है जिन्होंने जनता से झूठ बोला है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के चलते सारे उद्योग चौपट हो गए और आज तक चौपट हैं।

सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम लिए बिना कहा कि “देश के सर्वोच्च पद पर बैठे आदमी के अंदर अहम बैठ गया है कि मैं ही सब कुछ कर सकता हूं, मेरे अलावा कोई कुछ नहीं कर सकता। देश की राजनीति बदल रही है और चारों तरफ झूठ बोला जा रहा है, मीडिया पर केंद्र सरकार का नियंत्रण है।”

सिन्हा ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा अब भारत की जनता झूठ को बर्दास्त नहीं करेगी। उन्होंने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि अगर मोदी अगली बार भी जीत गए तो भीख मांगने को भी रोजगार की श्रेणी में रख देंगे। सिंह ने केंद्र की नीतियों का विरोध करते हुए पेट्रोल की बढ़ती कीमत और डॉलर के मुकाबले रुपए की गिरती कीमत का जिक्र करते हुए भाषण खत्म किया।

जनसभा में बीजेपी के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बागी तेवर दिखाते हुए मोदी सरकार पर प्रहार करते हुए कहा,‘‘ भले ही आप कहते हो कि मैं भाजपा का हूं लेकिन सबसे पहले मैं भारत का नागरिक हूं। पार्टी से पहले देश है।’’ बता दें कि यशवंत सिन्हा और शत्रुघ्न सिन्हा हाल के दिनों में मोदी सरकार के फैसलों की आलोचना के लिए चर्चा में रहे हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री को केजरीवाल ने दिया बड़ा ऑफर

इस दौरान दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने पूर्व वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा से लोकसभा चुनाव लड़ने की अपील की। हालांकि उन्होंने किसी पार्टी विशेष का नाम नहीं लिया कि वह किससे चुनाव लड़ें। केजरीवाल ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “कुछ दिन पहले यशवंत जी ने कहा था कि वह चुनाव नहीं लड़ेंगे। सर, मैं कहना चाहता हूं कि आप जैसे अच्छे व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ेंगे तो फिर कौन लड़ेगा। जनता चाहती है कि आप चुनाव लड़ें।”

केजरीवाल ने बिना किसी पार्टी का नाम लिए कहा, “शत्रुघ्न जी चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने इसे खारिज नहीं किया है।” गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की सात लोकसभा सीटों में से पांच पर प्रभारियों की घोषणा कर दी है और दो सीट पर अभी घोषणा होनी बाकी है।

Previous articleYashwant Sinha, Shantrughan Sinha to be AAP candidates in 2019?
Next articleपति अतहर आमिर के साथ IAS टॉपर टीना डाबी खान ने किया ताजमहल का दीदार, वायरल हुई तस्वीर