उद्धव ठाकरे ने PM मोदी पर साधा निशाना, कहा- चुनाव क्यों करवाते हैं, सीधे दिल्ली से CM नियुक्त कर दीजिये

0

कर्नाटक में जारी राजनीतिक उठापटक के बीच केंद्र में एनडीए की सहयोगी और महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सरकार में साथ देने वाली शिवसेना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला बोला है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि केंद्र को राज्यपालों की तरह मुख्यमंत्रियों की भी नियुक्ति कर देनी चाहिए।

Follow us on Google News

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार (17 मई) को उल्हासनगर में एक रैली में कहा कि, “अगर लोकतंत्र का अनादर ही किया जाना है तो एक लोकतांत्रिक देश कहने का क्या फायदा है? चुनाव कराना बंद कर देना चाहिए ताकि प्रधानमंत्री मोदी बिना किसी बाधा के विदेशी दौरे पर जा सकें।” साथ ही उन्होंने कहा, “चुनाव कराना बंद कर दीजिए, ताकि समय और पैसे की बचत हो सके, मुख्यमंत्रियों को राज्यपालों की तरह नियुक्त कर दें।”

बता दें कि, इससे पहले 15 मई को भी उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर हमला बोला था। उन्होंने कहा था कि बीजेपी उपचुनाव हार रही है, लेकिन विधानसभा चुनाव जीत रही है। उन्होंने कर्नाटक के चुनाव नतीजे को लेकर कहा था, ‘अगर बीजेपी खुद पर भरोसा है तो एक बार मतपत्र के जरिये चुनाव कराकर दिखाएं।’

गौरतलब है कि, कर्नाटक में कांग्रेस और जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) ने 117 विधायकों के समर्थन की चिट्ठी राज्यपाल को सौंपी थी। लेकिन चुनाव परिणाम में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी बीजेपी को राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता दिया और पार्टी नेता येदियुरप्पा ने गुरुवार(17 मई) को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इसके बाद से पूरे देश में सियासी तूफान उठा मचा हुआ है और विपक्षी पार्टिया इसे लोकतंत्र की हत्या बता रही है।

फिलहाल, बीजेपी के पास 104 सीट है और सरकार बनाने के लिए 112 सीटों की जरूरत है। बता दें कि, राज्यपाल के इस फैसले के बाद से पूरे देश में सियासी तूफान उठा हुआ है और अब यह मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। कर्नाटक में जारी सियासी संग्राम के बीच सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार (18 मई) को बड़ा फैसला दिया है।

सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया कि कर्नाटक विधानसभा में कल यानी शनिवार (19 मई) शाम चार बजे बहुमत साबित किया जाए ताकि यह पता लगाया जा सके कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नव नियुक्त मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा के पास राज्य में विधायकों का पर्याप्त संख्याबल है या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here