रयान स्कूल हत्याकांड: पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर का खुलासा, प्रद्युम्न का नहीं हुआ था यौन शोषण

0

गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की बेरहमी से गला काटकर हत्या का मामले में मंगलवार(12 सितंबर) को एक नया खुलासा हुआ है। डॉक्टर ने प्रद्युम्न ठाकुर के साथ किसी प्रकार के यौन शोषण किए जाने से इनकार किया है। यह जानकारी प्रद्युम्न के शव का पोस्टमॉर्टम करने वाले एक डॉक्टर ने दी।

(Sanjeev Verma/HT PHOTO)

प्रद्युम्न का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि पोस्टमार्टम जांच के दौरान पता चला कि प्रद्युम्न की मौत ज्यादा खून बह जाने से हुई थी। साथ ही उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि उसकी मौत का कारण ज्यादा खून बह जाना था। हालांकि उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।

बता दें कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र, मानव संसाधन विकास मंत्रालय, हरियाणा सरकार, CBI और सीबीएसई को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने सभी पक्षों से तीन हफ्ते के अंदर जवाब मांगा है। प्रद्युमन के पिता वरुण ठाकुर ने इस मामले की जांच सीबीआई या विशेष जांच दल (एसआईटी) से कराने की मांग को लेकर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था।

CBI जांच को तैयार खट्टर सरकार

वहीं, बढ़ते दबाव के बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि सरकार इस केस की सीबीआई जांच को तैयार है। खट्टर ने प्रद्युमन के माता-पिता से फोन पर बातचीत की है। प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर को फोन कर सीएम ने कहा कि परिवार जिस तरह की जांच चाहे, सरकार उसी तरह कराएगी।

बता दें कि गुरुग्राम स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार(8 सितंबर) सुबह दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया। पुलिस ने हत्या के प्रयास के आरोप में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में कंडक्टर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

 

 

Previous articleVIDEO: भाजपा के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे पाटीदारों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज, भड़के पाटीदार, सूरत में दो बसें फूंकी
Next articlePolice arrest man who posed as underworld don to demand money