BJP में शामिल नहीं होंगे नारायण राणे, ‘महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष’ नाम से किया नई पार्टी बनाने का ऐलान

0
Follow us on Google News

पिछले दिनों कांग्रेस छोड़ने वाले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने रविवार(1 अक्टूबर) को अपनी नई पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने ‘महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष’ नाम से नई पार्टी की घोषणा की है। बता दें कि राणे ने पिछले महीने ही कांग्रेस पर अनदेखी का आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया था।

File Photo: TOI

पार्टी की प्राथमिक सदस्यता के साथ ही उन्होंने विधान परिषद सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें लगाई जा रही थीं। हालांकि नई पार्टी बनाने के एलान के साथ ही इन अटकलों पर विराम लग गया है। बता दें कि शिवसेना में रहते हुए राणे 1999 में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री थे।

दरअसल, कांग्रेस छोड़ने के बाद बीते सोमवार को दिल्ली में राणे की मुलाकात बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से हुई थी, लेकिन इस बैठक में राणे के पार्टी में शामिल होने पर कोई फैसला नहीं हो सका था। इसके बाद मंगलवार को कथित रूप से बीजेपी और RSS के नेताओं ने आपसी विचार-विमर्श के बाद नई पार्टी बनाने के इस फॉर्म्युला को अंतिम रूप दिया था।

नारायण राणे ने पार्टी बनाने का एलान करने के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान शिवसेना पर तो जमकर हमला बोला, लेकिन बीजेपी के खिलाफ कुछ भी कहने से बचते नजर आए। उन्होंने कहा कि शिवसेना को सिर्फ अखबारों और टीवी चैनलों ने जिंदा रखा हुआ है।

Why the BJP should get credit for how it worked as an effective opposition during UPA government?

इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि क्या बीजेपी में आपके दोस्त हैं, तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ‘मेरे दोस्त हर जगह हैं। शिवसेना में उद्धव को छोड़कर और कांग्रेस में अशोक चव्हाण को छोड़कर सब मेरे दोस्त हैं।’ बीजेपी को समर्थन देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कुछ दिन के अंदर उनकी पार्टी अपनी अगली रणनीति बनाएगी और उसी में बीजेपी को समर्थन देने पर फैसला होगा।

बता दें कि बीजेपी में शामिल होने की अटकलों के बीच राणे ने गुरुवार(21 सितंबर) को कांग्रेस छोड़ दी। राणे के बेटे और पूर्व कांग्रेस सांसद नीलेश राणे ने भी पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। कांग्रेस छोड़ने का ऐलान करते हुए राणे ने आरोप लगाया था कि 12 साल पहले जब वह पार्टी में शामिल हुए थे तो उन्हें मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया गया था, लेकिन पार्टी अपने वायदे से मुकर गई है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here