जेल से रिहा होते ही भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर रावण ने BJP पर बोला हमला, कहा- लोकसभा चुनाव में भाजपा को हराना ही हमारा मकसद

0

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर हिंसा मामले में गिरफ्तार भीम आर्मी के संस्थापक और मुखिया चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण को सहारनपुर जेल से रिहा कर दिया गया है। उन्हें तय समय से पहले ये रिहाई दी गई है। बीते साल सहारनपुर में जातीय दंगा फैलाने के आरोप में चंद्रशेखर को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत जेल भेजा गया था। उत्तर प्रदेश सरकार ने चंद्रशेखर को बुधवार को जेल से रिहा करने के आदेश दिए थे।

(HT File Photo)

जेल से निकलने ही चंद्रेशखर ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हराना ही उनका मकसद है। उन्होंने कहा कि बीजेपी सत्ता ही नहीं, विपक्ष में भी नहीं रह पाएगी। चंद्रशेखर आजाद को साल 2017 में सहारनपुर में जातीय दंगा फैलाने के आरोप में ​गिरफ्तार किया गया था।

रावण ने कहा, “सरकार को सुप्रीम कोर्ट की तरफ से फटकार लगाई जा रही थी जिससे सरकार डरी हुई थी, इसलिए उन्होंने खुद को बचाने के लिए जल्दी रिहाई का आदेश दिया। मैं आश्वस्त हूं कि वह 10 दिनों के भीतर मेरे खिलाफ कुछ न कुछ आरोप लगाएंगे। 2019 में बीजेपी को सत्ता से बाहर करने के लिए मैं अपने लोगों से बात करूंगा।” सहारनपुर में जातीय हिंसा भड़काने का आरोप में रावण को यूपी पुलिस ने पिछले साल जून महीने में हिमाचल प्रदेश के डलहौजी से गिरफ्तार किया था।

बता दें कि योगी सरकार ने गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत जेल में बंद चंद्रशेखर को समय से पहले छोड़ने का फैसला किया। इसी के तहत रात 2:24 बजे चंद्रशेखर को जेल से रिहा किया गया। चंद्रशेखर को बीते साल सहारनपुर में हुई जातीय हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार के इस फैसले को 2019 के एक चुनावी दांव के रूप में भी लिया जा रहा था। मिली जानकारी के अनुसार उन्हें नवंबर में रिहा किया जाना था।

 

Previous articleबीजेपी भंग कर सकती है गोवा विधानसभा, कांग्रेस नेता ने राज्यपाल को लिखा खत
Next articleहरियाणा में CBSE टॉपर और राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित छात्रा का अपहरण कर गैंगरेप, पीड़िता की मां ने पीएम मोदी से लगाई इंसाफ की गुहार