छत्तीसगढ़: सोशल मीडिया में आपत्तिजनक वीडियो साझा करने के आरोप में पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज

0

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले की पुलिस ने सोशल मीडिया में राज्य शासन और नगर निगम के महापौर के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग करने के आरोप में स्थानीय पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज किया है। अंबिकापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि अंबिकापुर नगर निगम के महापौर अजय तिर्की की शिकायत पर पुलिस ने मंगलवार को पत्रकार मनीष सोनी के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

छत्तीसगढ़

समाचार एजेंसी पीटीआई (भाषा) की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तिर्की ने सोनी पर आरोप लगाया है कि सोनी और उनके साथियों ने उन्हें (महापौर), राज्य सरकार और कांग्रेस पार्टी को संबोधित करते हुए अभद्र भाषा का प्रयोग किया है तथा उसका वीडियो बना कर सोशल मीडिया में डाल दिया। उन्होंने कहा कि तिर्की ने शिकायत में कहा है कि इस पोस्ट से कांग्रेस की छवि को खराब करने का प्रयास किया जा रहा है।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि तिर्की की शिकायत पर पुलिस ने सोनी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है तथा मामले की जांच की जा रही है। पुलिस में मामला दर्ज होने को लेकर पत्रकार सोनी ने कहा कि इस महीने की 17 तारीख को उन्होंने अपनी समाचार रिपोर्ट के साथ सोशल मीडिया में एक क्लिप जारी किया था। इस रिपोर्ट में नगर निगम द्वारा आवासीय कालोनी बनाने के लिए सरकारी जमीन पर किसानों द्वारा उगाए गए धान पर जेसीबी चलाने की जानकारी दी गई थी।

सोनी ने बताया कि इस वीडियो में किसानों ने आरोप लगाया था कि वह वर्षों से इस जमीन पर खेती कर रहे हैं और नगर निगम ने बिना किसी पूर्व सूचना के उनकी फसलों को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि वीडियो के वायरल होने के बाद कुछ लोगों ने इसे संपादित कर दिया और अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए मीम बना दिया। सोनी ने कहा कि छेड़छाड़ कर बनाए गए वीडियो के अधार पर पुलिस ने उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि बिना किसी जांच के पुलिस ने उन्हें इस मामले में फंसा दिया है।

बता दें कि, इससे पहले अगस्त माह में पुलिस ने सोनी के खिलाफ सोशल मीडिया में आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में मामला दर्ज किया था। सोनी पर आरोप है कि उन्होंने सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ को लेकर कथित रूप से आपत्तिजनक टिप्पणी की थी।

अंबिकापुर में पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज होने को लेकर एक ट्वीट के जवाब में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा, ‘‘कांग्रेस निष्पक्ष पत्रकारिता व अन्नदाताओं के अधिकारों के लिए प्रतिबद्ध है। मैं आपको विश्वास दिलाता हूँ कि किसानों और पत्रकारों के साथ किसी प्रकार का अन्याय स्वीकार नहीं किया जाएगा।’’

Previous articleLIVE UPDATES: 19-year-old girl, returning home from Navratri event, allegedly gang-raped in Uttar Pradesh
Next articleमुंबई: वकील ने BJP समर्थक अभिनेत्री कंगना रनौत के खिलाफ अदालत में आपराधिक शिकायत दर्ज कराई