रैनबसेरे में घुसी बेकाबू कार ने 10 लोगों को रौंदा, अंदर सो रहे पांच मजदूरों की मौत

0

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज इलाके में आज सुबह तेज रफ्तार से जा रही एक कार के बेकाबू होकर एक रैन बसेरे में जा घुसने से उसके अंदर सो रहे पांच मजदूरों की मौत हो गयी तथा इतने ही अन्य घायल हो गये।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी ने यहां बताया कि हजरतगंज थाना क्षेत्र के डालीबाग इलाके में करीब 25 मजदूर एक रैन बसेेरे में सो रहे थे। भोर करीब दो बजे तेज रफ्तार से आ रही एक कार उसमें जा घुसी।

Photo courtesy: deccan chronnicle

उन्होंने बताया कि इस दुर्घटना में कार की चपेट में आकर पृथ्वीराज, गोकरन, अब्दुल कलाम और एक अग्यात मजदूर की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि देवराज नामक घायल मजदूर ने ट्रामा सेंटर में दम तोड़ दिया। मरने वाले सभी लोग बहराइच जिले के रहने वाले थे।

भाषा की खबर के अनुसार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि दुर्घटना में घायल हुए पांच मजदूरों को ट्रामा सेन्टर में भर्ती कराया गया है, उनकी हालत गंभीर बताई जाती है।

इस सिलसिले में कार सवार आयुष कुमार रावत तथा निखिल अरोड़ा को गिरफ्तार किया गया है। घटना के वक्त वे दोनों शराब के नशे में थे। बताया जाता है कि आयुष समाजवादी पार्टी के पूर्व विधायक का बेटा है।

पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

Previous articleआयकर विभाग का आदेश 1 अप्रैल से 9 नवंबर, 2016 तक जमा होने वाले कैश की रिपोर्ट दें बैंक
Next articleAmar Singh gets ‘Z’ category central security again