लोकसभा चुनाव 2019: बीएसपी ने चुनाव आयोग को लिखा पत्र, कहा- दलितों को मतदान से यूपी पुलिस ने रोका

0

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों और चार राज्यों की विधानसभा सीटों पर गुरुवार सुबह सात बजे से मतदान शुरू है। 91 लोकसभा सीटों पर कुल 1279 उम्मीदवार मैदान में हैं। मतदान केंद्रो पर समय से पहले से ही लोगों की लाइन नजर आ रही थी। सुरक्षा के लिए पूरे चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। आंध्र प्रदेश, सिक्किम, ओडिशा और अरुणाचल प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए भी गुरुवार को ही मतदान हो रहा है।

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के तहत पश्चिमी उत्तर प्रदेश की आठ सीटों के लिए गुरुवार दोपहर एक बजे तक करीब 38.78 फीसदी मतदान हुआ है। उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी के कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार, मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ। दोपहर एक बजे तक 38.78 फीसदी मतदान हुआ है।

इस बीच, बीएसपी ने चुनाव आयोग को एक पत्र लिखा है। पार्टी ने पत्र में कहा है कि, हमें विभिन्न मतदान केंद्रों से जानकारी मिल रही है कि बसपा के मतदाताओं को विशेष रूप से दलितों को यूपी पुलिस द्वारा बल के उपयोग से मतदान केंद्रों तक पहुंचने से रोका जा रहा है। पार्टी ने तुरंत इस मामले में कार्रवाई की मांग की है।

वहीं, उत्तर प्रदेश के बिजनौर में इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में शिकायत मिलने के बाद हड़कंप मच गया है। मतदाताओं का आरोप है कि BSP का बटन दबाने पर BJP को वोट पड़ रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बूथ नo 16 मे 2 EVM मशीनों में कथित तौर पर गड़बड़ी की शिकायत आई है। लोगों का आरोप है कि बसपा का बटन दबाने पर कथित तौर पर बीजेपी को वोट जा रहा है। इस शिकायत के बाद मतदाताओं मे भारी आक्रोश है।

हालांकि बिजनौर के मजिस्ट्रेट राकेश कुमार ने मतदाताओं के आरोपों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई है। चुनाव शांतिपूर्ण तरीके से हो रहे हैं। मॉक पोलिंग के दौरान कुछ मुद्दे थे, इसलिए हमने पूरा सेट बदल दिया।

Previous articleविकिलीक्स के सह-संस्थापक जूलियन असांजे को लंदन के इक्वाडोर दूतावास से सात साल बाद किया गया गिरफ्तार
Next articleलोकसभा चुनाव 2019: दुनिया की सबसे छोटी महिला ज्योति आमगे ने नागपुर में डाला वोट, देखें वीडियो और तस्वीरें