अब गाजियाबाद में पांच मंजिला इमारत ढही, एक की मौत, 8 घायल

0
Follow us on Google News

देश की राजधानी दिल्‍ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी में हादसे के बाद अब गाजियाबाद में एक इमारत गिरने से बड़ा हादसा हुआ है। गाजियाबाद में रविवार (22 जुलाई) को एक पांच मंजिला इमारत के ढहने से एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि आठ अन्य घायल हो गए। मजदूर इमारत के कार्य को अंतिम रूप दे रहे थे।

(Shakib Ali/HT Photo)

पुलिस ने कहा कि मृतक के हाथ पर बने टैटू से उसकी पहचान राहुल के रूप में हुई है। लेकिन उसके बारे में और जानकारी जुटाई जा रही है। उन्होंने कहा कि यह घटना अपराह्न् 3.30 बजे आवासीय कॉलोनी आकाश नगर में हुई।आपको बता दें कि इसी हफ्ते ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी गांव में भी दो बिल्डिंगें भरभराकर ढह गई थीं। इस हादसे में नौ लोगों की इमारत के मलबे में दबकर मौत हो गई थी।

हिंदुस्तान में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक गाजियाबाद के डासना में भी पांच मंजिला निर्माणाधीन एक इमारत भरभराकर गिर गई। 15 से ज्यादा मजदूर मलबे में दब गए। एनडीआरएफ ने आठ लोगों को निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया। जिलाधिकारी ने एक मजदूर के मरने की पुष्टि की है। नौ और मजदूरों के दबे होने की आशंका है। देर रात बचाव और राहत कार्य जारी था।

मसूरी इलाके में डासना फ्लाईओवर के पास फ्री होल्ड कॉलोनी आकाश नगर में 20 से 25 फ्लैट वाली पांच मंजिला इमारत बनाई जा रही थी। बिल्डिंग के पास झुग्गी डालकर मध्य प्रदेश से आए मजदूरों के दो परिवार रह रहे थे। रविवार सुबह तेज बारिश होने पर सभी मजूदरों ने इसी इमारत में शरण ले ली। थोड़ी देर बाद चारों तरफ पानी भर गया। नींव में पानी भरने से दोपहर करीब ढाई बजे पूरी इमारत भरभराकर गिर गई, जिसमें दोनों परिवारों के लोग दब गए।

हादसे के बाद एनडीआरएफ को मदद के लिए बुलाया गया। आठ घायलों को निकालकर संयुक्त जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां राहुल (16) को मृत घोषित कर दिया गया। गीता, राजकुमार और बचाने में घायल हुए रईस का संयुक्त जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है। गंभीर हालत में गुलाब रानी, देवेंद्र और शिवा को दिल्ली के जीटीबी अस्पताल भेजा गया।

समाचार एजेंसी IANS के मुताबिक वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्णा के मौके पर पहुंचने पर स्थानीय लोगों ने कहा कि यह इमारत मजदूरों का आश्रय थी। कृष्णा ने कहा, अबतक पांच मजदूरों व पांच साल के एक बच्चे को बचाया गया है। बाद में तीन और मजदूरों को बचा लिया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार, इमारत का निर्माण नियमों का उल्लंघन करते हुए गाजियाबाद विकास प्राधिकरण की अनुमति लिए बिना किया जा रहा था।

कृष्णा के प्रवक्ता ने कहा, बचाव अभियान तेज कर दिया गया है। गाजियाबाद के जिला अधिकारी ने मृतक के परिजनों को दो लाख रुपये की अनुगृह राशि और प्रत्येक घायलों को 50,000 रुपये देने की घोषणा की है। जांच के आदेश दे दिए गए हैं और विभागीय आयुक्त अनीता सी मेश्राम जांच रिपोर्ट सौंपेगी। घटना के बाद परिवार समेत भागे बिल्डर के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here