भारत के पूर्व क्रिकेटर और योगी सरकार के मंत्री चेतन चौहान का निधन, कोरोना संक्रमण के बाद अस्पताल में थे भर्ती

0

उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान की मौत हो गई है। कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद चेतन चौहान को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। चौहान को करीब 36 घंटे से जीवन रक्षक प्रणाली पर रखा हुआ था, वह 73 वर्ष के थे।

उत्तर प्रदेश

योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट चेतन चौहान को कोविड-19 पॉजिटिव पाए जाने के बाद 12 जुलाई को लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया था। किडनी संबंधित बीमारियों के कारण उनका स्वास्थ्य बिगड़ गया जिससे उन्हें गुरूग्राम के मेंदाता अस्पताल में शिफ्ट किया गया। शुक्रवार रात को उनके कई महत्वपूर्ण अंगों ने काम करना बंद कर दिया और उन्हें वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा गया।

बता दें कि, इससे पहले 2 अगस्त को यूपी सरकार में मंत्री कमल रानी वरुण का भी कोरोना वायरस के चलते निधन हो गया था। उन्हें भी कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद एसजीपीजीआई अस्पताल में भर्ती कराया गया था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सहयोगी मंत्री के निधन पर दुख जताया है।

सीएम योगी ने अपने ट्वीट में लिखा, “पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी, मंत्रिमंडल में मेरे सहयोगी, श्री चेतन चौहान जी के असामयिक निधन का व्यथित कर देने वाला समाचार प्राप्त हुआ। प्रभु श्री राम, श्री चौहान जी के परिजनों को इस अपार दुःख को सहने की शक्ति एवं दिवंगत आत्मा को अपने श्री चरणों में स्थान प्रदान करें। ॐ शांति।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चेतन चौहान के निधन पर दुख जताया है। पीएम मोदी ने कहा, ‘चेतन चौहान जी ने खुद को पहले एक शानदार क्रिकेटर और बाद में बेहतरीन राजनेता के रूप में साबित किया। उन्होंने जनसेवा के साथ-साथ यूपी में बीजेपी को मजबूत करने का काम किया। उनके निधन से काफी दुख हुआ। उनके परिवार को समर्थकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं।’

वहीं, मोदी सरकार में मंत्री और बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘यह अविश्वसनीय है कि चेतन चौहान जी अब हमारे बीच नहीं हैं। क्रिकेटर और नेता होने के अलावा वह बेहतरीन इंसान भी थे।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here