पत्नी से तलाक पर डिप्रेशन में चल रहे तेज प्रताप बोले- ‘क्या करें, मर जाएं…फांसी लगा लें?’

0

शादी के महज छह महीने में ही पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की अर्जी दाखिल कर चुके राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने शनिवार को कहा कि वह ऐश्वर्या के साथ अब और नहीं रह सकते। उन्होंने कहा कि घुट-घुट कर जीने से कोई फायदा नहीं है। उन्होंने कहा कि यह सच्चाई है कि हमने तलाक के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल किया है। कोर्ट का निर्णय करेगी के ऐसी जिंदगी जीने से घुट-घुट कर जीना बेहतर है या तलाक ले लेना।

तलाक के लिए अर्जी दाखिल करने के एक दिन बाद तेज प्रताप रांची स्थित राजेंद्र चिकित्सा विज्ञान संस्थान (रिम्स) में अपने पिता लालू यादव से मिले। मामलों को लेकर पिता और बेटे के बीच अस्पताल के एक बंद कमरे में चर्चा हुई। आपको बता दें कि चारा घोटाले में दोषी लालू का यहां कई बीमारियों का इलाज चल रहा है। पिता से मुलाकात के बाद तेजप्रताप यादव ने स्पष्ट कह दिया है कि वह अपने अपने पिता और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की बात कतई नहीं मानने वाले हैं।

पत्रकारों से बातचीत में तेजप्रताप ने कहा कि मेरे मां-बाप, भाई-बहन सबने मुझे नकार दिया, सब ऐश्वर्या के साथ खड़े हैं. उन्होंने कहा कि मेरे साथ मेरे परिवार का कोई नहीं खड़ा है। उन्होंने कहा कि सब ऐश्वर्या के साथ हैं। हालांकि, वह अपना इरादा नहीं बदलेंगे। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक परिवार का नाम खराब होने के सवाल पर तेज प्रताप ने कहा, ‘क्या करें, मर जाएं…फांसी लगा लें।’

दैनिक अखबार ‘हिंदुस्तान’ में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, तेजप्रताप शनिवार को पिता लालू यादव से मिलने रांची आए थे। शाम में पटना लौटने वाले थे कि उनकी तबीयत खराब हो गई और रांची में ही रुक गए। रिपोर्ट के मुताबिक रविवार दोपहर में जब वह होटल से पटना जाने के लिए निकले तो उस समय भी गुस्से में थे। चलते-चलते जब पत्रकारों ने नाराजगी के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि मेरे साथ जो व्यवहार हुआ है वह सब कोर्ट में बताएंगे। उन्होंने सारी बातें लिखित में फाइल की है।

यह पूछने पर कि क्या पापा की बात भी नहीं मानेंगे, तेज प्रताप ने कहा कि वह हमारा समर्थन कर रहे हैं क्या। उनकी कोई बात नहीं मानेंगे। पोलिटिकल करियर और परिवार को होने वाले नुकसान की याद दिलाने पर उन्होंने कहा कि पोलिटिकल करियर क्या होता है? क्या करें, मर जाएं, फांसी लगा लें? इतना कहकर तेज प्रताप गाड़ी में बैठ गए और पटना के लिए चल दिए।

शादी के पांच महीने बाद ही तलाक की दी अर्जी

आपको बता दें कि तेजप्रताप ने एश्वर्या राय से शादी के पांच महीने बाद ही पटना की दिवानी अदालत में तलाक के लिए अर्जी दाखिल कर दी है। लालू प्रसाद के बड़े बेटे और राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने शुक्रवार को एक स्थानीय अदालत में अर्जी दाखिल कर अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक की गुहार लगाई है। एश्वर्या राजद के वरिष्ठ नेता चंद्रिका राय की बेटी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री दरोगा राय की पोती हैं।

तेज प्रताप की ओर से दी अर्जी में संबंधों में सामंजस्य नहीं होने को वजह बताते हुए तलाक मांगा गया है। स्थानीय दीवानी अदालत में तेजप्रताप की तरफ से अर्जी दाखिल करने वाले वकील यशवंत कुमार शर्मा ने बताया कि हिंदू विवाह अधिनियम की धारा 13-ए के तहत तलाक मांगा गया है। इस धारा के तहत पति या पत्नी में से कोई भी एक तरफा तरीके से तलाक मांग सकता है। तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी लगभग छह महीने पहले 12 मई को हुई थी।

इस शादी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान सहित हर पार्टी के नेता और कई गणमान्य लोग शरीक हुए थे। ऐसी अटकलें रही हैं कि तेजप्रताप और ऐश्वर्या के बीच शादी के बाद से ही बनती नहीं है। गौरतलब है कि लालू प्रसाद के राजनीतिक तौर पर सक्रिय नहीं होने के कारण अघोषित रूप से तेजस्वी ही राजद की अगुवाई कर रहे हैं।तेजप्रताप यह संकेत भी देते रहे हैं कि अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव से उनके संबंध बहुत अच्छे नहीं हैं।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here