तनुश्री दत्ता मामला: ‘नाना पाटेकर को लेकर पक्षपात नहीं कर रही फडणवीस सरकार’, महाराष्ट्र सरकार के मंत्री ने दी सफाई

0

महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने गुरुवार को कहा है कि अगर तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई होगी तो इसकी निष्पक्ष जांच कराई जाएगी। महाराष्ट्र के मंत्री दीपक केसरकर ने गुरुवार को कहा है कि अगर तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई होगी तो इसकी निष्पक्ष जांच कराई जाएगी।

आपको बता दें कि अभिनेत्री का आरोप है कि नाना पाटेकर ने 2008 की एक फिल्म की शूटिंग के दौरान उनके साथ दुर्व्यवहार किया था। गृह राज्य मंत्री (ग्रामीण) केसरकर ने जोर देकर कहा कि नाना पाटेकर को लेकर सरकार का रवैया पक्षपातपूर्ण नहीं है। शिवसेना के मंत्री ने बुधवार को कहा कि पाटेकर एक ‘महान व्यक्तित्व’ हैं, जिन्होंने राज्य के लिए बहुत किया है। उन्होंने सवाल किया कि दत्ता ने पिछले 10 सालों में पुलिस में शिकायत क्यों नहीं दर्ज कराई थी।

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक गुरुवार को केसरकर ने सफाई देते हुए कहा, ‘जब एक आधिकारिक शिकायत दर्ज कराई जाएगी, पुलिस मामले की पारदर्शिता से जांच कर पाएगी ताकि दोनों पक्षों के साथ न्याय हो सके।’ उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसी के प्रति पूर्वाग्रह नहीं रखती है और कानून के समक्ष सब समान हैं।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, बॉलीवुड अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने अपने समय के मशहूर अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। घटना 2008 में एक फिल्म की शूटिंग के समय की है। लेकिन इस मामले में जिस प्रकार से आवाजें उठनी चाहिएं थीं, उस तरह से नहीं उठीं।

‘आशिक बनाया आपने’ फिल्म से हिट हुई एक्ट्रेस ने एक टीवी इंटरव्यू में आरोप लगाते हुए कहा कि 10 साल पहले ‘हॉर्न ओके प्लीज’ फिल्म के सेट पर नाना पाटेकर ने मेरे साथ गलत व्यवहार किया था। जब मैंने इस बारे में प्रोड्यूसर-डायरेक्‍टर से कहा कि यह बंदा (नाना पाटेकर) मुझे पकड़कर खींच रहा है और डांस सिखा रहा है तो बजाए मेरी शिकायत सुनने के उन्होंने एक और डिमांड रख दी कि वह अब इस गाने में मेरे साथ एक इंटीमेट डांस स्‍टैप करना चाहता है।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि पाटेकर को फिल्मकारों और कोरियोग्राफर का मौन समर्थन था। हालांकि अब सोशल मीडिया और अन्य मंचों पर इस पर खूब बहस हो रही है।तुनश्री के समर्थन में काफी देर से ही सही पर फरहान अख्तर,सोनम कपूर, रिचा चड्ढ़ा और प्रियंका चोपड़ा जैसे कलाकारों ने आवाजें उठाईं हैं।

गौरतलब है कि हॉलीवुड के फिल्मकार हार्वे वाइंस्टीन के खिलाफ यौन शोषण का मामला अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित होने और इसी के साथ विश्व भर की महिलाएं अपनी खामोशी तोड़ते हुए ‘मी टू’ अभियान के जरिए अपनी-अपनी बाते खुलकर रखीं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here