कश्मीर में आतंकी हमले की सबसे भयावह तस्वीर, दादा के शव पर बैठा रोता हुआ मिला 3 साल का मासूम

0

जम्मू कश्मीर के सोपोर में बुधवार (1 जुलाई) की सुबह को सीआरपीएफ दल पर आतंकवादियों ने हमला कर दिया। इस आतंकी हमले में एक जवान शहीद हो गया, जबकि तीन अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। इस हमले में एक नागरिक की भी मौत हो गई है। उत्तरी कश्मीर के सोपोर में बुधवार को आतंकवादी हमले में एक तीन वर्षीय बच्चे के सामने उसके दादा की मौत हो गई। घटना की दिल दहला देने वाली तस्वीरें व वीडियो सामने आईं हैं, जिसमें बच्चा शव पर बैठा नजर आ रहा है। बाद में बच्चे को सेना और पुलिस के जवानों द्वारा ले जाया गया। जम्मू-कश्मीर में आतंक की यह सबसे भयावह तस्वीर है।

कश्मीर

आतंकी सुरक्षाबलों के साथ-साथ अब राज्य के मासूम नागरिकों को निशाना बनाने लगे हैं। राज्य में आतंक की तस्वीर को बयां करती एक तस्वीर ने सबको झकझोर दिया है। आतंकियों की गोली से छलनी दादा के सीने पर बैठे पोते की तस्वीर ने सबको हिलाकर रख दिया है। मासूम बच्चा इस उम्मीद में दादा की छाती पर बैठा है कि दादा उठकर उसे घर लेकर चलेंगे।

ख़बरों के मुताबिक, आतंकवादियों ने घात लगाकर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) दल पर ताबड़तोड़ गोलीबारी की। बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह सीआरपीएफ का एक गश्ती दल पेट्रोलिंग पर निकला था। इसी दौरान रेबन इलाके में छिपे हुए आतंकियों ने सीआरपीएफ पार्टी पर गोलीबारी शुरू कर दी। इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।

सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर जनरल राजेश कुमार ने कहा, “गंभीर रूप से घायल एक हेड कांस्टेबल ने दम तोड़ दिया, वहीं घायल तीन जवानों की हालत स्थिर हैं।” घायल सीआरपीएफ जवानों को श्रीनगर के सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है। क्षेत्र की घेराबंदी कर आतंकवादियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाई जा रही है।

बीते तीन महीनों में सोपोर में सीआरपीएफ पर यह दूसरा हमला है। इससे पहले 18 अप्रैल को आतंकवादियों ने सीआरपीएफ दल पर गोलीबारी की थी, जिसमें सीआरपीएफ के तीन जवान मारे गए। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here