राहुल गांधी के बाद अब यूजर्स के निशाने पर आईं केंद्रीय मंत्री स्मृ‍ति ईरानी ने भी बताया अपना गोत्र, कहा- इसलिए लगाती हूं सिंदूर

0

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा हाल ही में अपने गोत्र का खुलासा करने के बाद सोशल मीडिया पर यूजर्स के निशाने पर आईं केंद्रीय मंत्री स्मृ‍ति ईरानी ने भी अपना गोत्र सार्वजनिक किया है। स्मृ‍ति ईरानी ने ट्विटर पर उनके, उनके पति और बच्‍चों के गोत्र पूछे जाने के बाद यह खुलासा किया है। एक ट्वीटर यूजर ने ट्वीट कर केंद्रीय मंत्री से उनका, उनके बच्चों और उनके पति का गोत्र पूछा था।

यूजर का जवाब देते हुए केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने बताया कि उनके पिता हिंदू थे और उनका गोत्र कौशल था। इस वजह से उनका भी गोत्र कौशल ही है। उन्‍होंने बताया कि उनके पति और बच्‍चे पारसी हैं, इसलिए उनका कोई गोत्र नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि मैं हिंदू धर्म में विश्वास रखती हूं इसीलिए सिंदूर लगाती हूं। उन्होंने यूजर से कहा कि अब आप अपनी जिंदगी पर ध्यान दें। धन्यवाद।

स्मृ‍ति ईरानी ने कहा, ‘मेरा गोत्र कौशल है जैसा कि मेरे पिता का है, उनके पिता का है और उनके पिता का है…मेरे पति और बच्‍चे पारसी हैं, इसलिए उनका गोत्र नहीं है। मैं हिंदू धर्म में विश्‍वास करती हूं और इसलिए सिंदूर लगाती हूं। अब आप अपनी जिंदगी पर ध्यान दें। धन्यवाद।’ इसके बाद केंद्रीय मंत्री ने एक अन्य ट्वीट में स्‍पष्‍टीकरण देकर कहा, ‘मेरा धर्म हिंदुस्तान है, मेरा कर्म हिंदुस्तान है, मेरी आस्था हिंदुस्तान है, मेरा विश्वास हिंदुस्तान है।’

आपको बता दें कि पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के गोत्र पर निशाना साधने के बाद उन्‍होंने सोमवार (26 नवंबर) को अपने गोत्र का खुलासा कर दिया। राहुल गांधी को राजस्थान स्थित पुष्कर के सरोवर घाट पर पूजा करवाने वाले एक पुजारी ने दावा किया कि राहुल गांधी की गोत्र दत्तात्रेय है और वह कश्मीर ब्राह्मण हैं। पुजारी दीनानाथ कौल ने पत्रकारों को बताया कि उनके पास इस परिवार का पूरा रिकॉर्ड पोथी में दर्ज है। इसमें इस परिवार की वंशावली है।

पुजारी के अनुसार राहुल गांधी के पूर्वजों ने ही मोती लाल नेहरू, जवाहर लाल नेहरू व इस परिवार के अन्य सदस्यों को यहां पूजा करवाई थी। पुजारी ने कहा, ‘‘इनकी गोत्र दत्तात्रेय हैं और वह कश्मीरी ब्राह्मण हैं। मोती लाल नेहरू, जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, संजय गांधी, मेनका गांधी व सोनिया गांधी ने घाट पर आकर पूजा की इसका रिकॉर्ड (पोथी) हमारे पास है।’’

पुजारी के अनुसार उन्होंने पूजा करने आए राहुल गांधी से उनका नाम व गोत्र पूछा तो ‘‘उन्होंने दत्तात्रेय गोत्र बताया। दत्तात्रेय कौल होते हैं जो कश्मीरी ब्राह्मण होते हैं।’’ पुजारी ने वह दस्तावेज भी दिखाए जिनमें पुष्कर सरोवर में पूजा करने वाले राहुल के पूर्वजों के नाम दर्ज थे। चुनावी यात्रा पर राजस्थान आए कांग्रेस अध्यक्ष ने इससे पहले सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर प्रार्थना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here