‘बहुत ही उल्लू के पट्ठे होते हैं तो जो इस किस्म की बात करते हैं’: मोहम्मद सिराज पर नस्ली टिप्पणी मामले में भड़के पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर

0

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब अख्तर ने भारतीय क्रिकेटरों विशेषकर तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज पर सिडनी में की गई टिप्पणियों पर अपनी कड़ी प्रतिक्रियां दी हैं। शोएब ने कहा कि, ‘नस्लवाद होता रहा है, होता रहेगा, लोग समझेंगे नहीं। बहुत ही उल्लू के पट्ठे लोग होते हैं तो जो इस किस्म की बात करते हैं। लेकिन नस्लवाद किसी भी सूरत में स्वीकार्य नहीं है।’

मोहम्मद सिराज

शोएब अख्तर ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘मैं बात कर रहा हूं मोहम्मद सिराज के ऊपर। उन पर आवाजें कसी गईं। उनको अलग-अलग तरह के नाम दिए गए। उनको गंदी जुबान से पुकारा गया। मैं आपको ईमानदारी से बताता हूं कि जब 2001 की घटना हुई (9/11), उसके बाद जितना नस्लवाद मुसलमानों ने सहा। साठ बंदों ने अगर आतंकवाद में हिस्सा लिया तो 1.6 बिलियन लोगों को, इस्लामिक फोबिया जो था, उसकी वजह से और इंटरनेशनल मीडिया ने इतना बढ़ा चढ़ाकर पेश किया कि 1.6 बिलियन मुसलमान… को टेररिस्ट बना दिया। मैं कारण बता रहा हूं कि क्यों यह सिराज के साथ हुआ।’

अख्तर ने कहा, ‘मुसलमानों के खिलाफ इतनी बात की, इतनी बात की, इतनी रिपोर्टिंग की, कि पूरी दुनिया में मुसलमानों को ऐसा बनाकर पेश किया गया कि इनसे बड़ा कोई आतंकी दुनिया में है ही नहीं। मैंने फुटबॉल में देखा, ब्लैक कम्युनिटी के साथ देखा। फुटबॉल ग्राउंड पर। कोई उन पर केला फेंक रहा है। कोई उनको जाानवरों के नाम से पुकार रहा है। कोई उनकी शक्लें बनाकर, होंठ बड़े करके…..।’

अख्तर ने कहा, ‘मैं ऐसे लफ्जों का इस्तेमाल भी नहीं करना चाहता, क्योंकि मैं इस चीज से सख्त खिलाफ हूं। क्योंकि हर चीज अल्लाह की बनाई हुई है। हर इंसान अल्लाह का बनाया हुआ है। वह हिंदू है, मुसलमान है, सिक्ख है। वह ब्लैक है, व्हाइट है, वह ब्राउन है। वह चाइनीज है, वह जैपनीज है, कोई भी है, वह अल्लाह का बनाया हुआ है। उसको आप बेइज्जती नहीं कर सकते।’

अख्तर ने कहा, ‘मेरे साथ हुआ। जैसे हम कई देशों में गए। पूछा गया कि आप कहां से आए हैं? बताया कि हम जी पाकिस्तान से हैं। तो बोला गया ओह ओह ओसामा बिन लादेन के देश से। साल 2002 में मुझे घटना याद है। मैं मुल्क का नाम नहीं लूंगा, बुरी बात होगी, स्टेडयम में आवाजें कसी गईं।’

गौरतलब है कि, मोहम्मद सिराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में लगातार दूसरे दिन नस्ली टिप्पणियों का सामना करना पड़ा। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अधिकारी ने आरोप लगाया है कि भारत के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को रविवार को तीसरे टेस्ट के दौरान आस्ट्रेलियाई दर्शकों के एक समूह ने नस्ली टिप्पणियां करते हुए ‘ब्राउन डॉग’ और ‘बिग मंकी’ कहा।

घटना से जुड़े कुछ वीडियोज भी सामने आए हैं जिनमें ऑस्‍ट्रेलियाई फैंस की बदसलूकी सुनी जा सकती है। घटना के बाद सुरक्षाकर्मियों को बुलाया गया और कुछ दर्शकों को बाहर किया गया। क्रिकेट जगत ने इसकी कड़ी भर्त्सना की। वहीं, क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का वादा किया है और मेहमान टीम से माफी भी मांगी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here