BJP सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने भी राफेल डील पर उठाए सवाल, PM मोदी से बोले- अब ‘खामोश’ रहने से नहीं बनेगी बात

0

‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा राफेल विमान सौदे को लेकर किए गए खुलासों के बाद कांग्रेस विमान सौदे में कथित गड़बड़ी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हर रोज निशाना साध रही है। कांग्रेस राफेल का मुद्दा लगातार चर्चा में बनाए रखना चाहती है। इसी के तहत खुद पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर राफेल विमान सौदे में अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए रोजाना ट्वीट कर रहे हैं।

राफेल सौदे को लेकर अब कांग्रेस के साथ-साथ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के भीतर से भी आवाज उठने शुरू हो गए हैं। मशहूर बॉलीवुड अभिनेता और बीजेपी सासंद शत्रुघ्न सिन्हा ने राफेल डील को लेकर सवाल उठाए हैं। सिन्हा ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर कांग्रेस के कंधे पर बंदूक रखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि इस मामले में पीएम मोदी को जल्द से जल्द जवाब देकर स्थिति साफ करनी चाहिए।

बीजेपी सांसद ने ट्वीट कर पीएम मोदी पर तंज कसते हुए लिखा है, “आदरणीय महोदय (नरेंद्र मोदी), कहां हैं आप? भारत में हैं या विदेश घूम रहे हैं। यह क्या हो रहा है महोदय? हमारे बहुत करीबी मित्र और कांग्रेस नेता राजदीप सुरजेवाला ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर राफेल डील के बारे में बताया। उन्होंने इस डील को लेकर दावों के साथ कई गंभीर आरोप लगाए हैं।”

शत्रुघ्न सिन्हा ने एक ट्वीट में लिखा, ‘सर (पीएम मोदी) हम इस मुश्किल और चिंताजनक स्थिति का मुकाबला करने के लिए अपने दिशानिर्देश और उत्तर का इंतजार कर रहे हैं। हमेशा की तरह आपके ‘खामोश’ रहने से समस्या के समाधान में मदद नहीं मिलेगी। सुरजेवाला ने यह भी आरोप लगाया है कि हमारे कुछ ईमानदार ब्यूरोक्रेट्स संवेदनशील दस्तावेजों, फाइलों, कागजातों को आगे लीक कर रहे हैं।’

सिन्हा ने अपने सिलसिलेवार ट्वीट में आगे कहा है कि क्या हमारी पकड़ और प्रभाव देश व यहां के लोगों पर से कम होती जा रही है? ये बहुत ही गंभीर आरोप हैं, जिसका तत्काल जवाब दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सुरेजवाला ने ये बातें पूरे विश्वास और तथ्यों के आधार पर रखी है। मुझे उम्मीद है और प्रार्थना करते हैं कि आप जितनी जल्दी इन बातों का जवाब देंगे, उतना ही बेहतर होगा। आप अपने जवाब से भ्रष्टाचार के इन आरोपों को हटा दें।

दरअसल सुरजेवाला ने अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि 60,145 करोड़ रुपये की राफेल डील ने साबित कर दिया कि ‘कल्चर ऑफ क्रोनी कैपिटलिज़्म’ यानि 3C मोदी सरकार का डीएनए बन गया है। उन्होंने कहा कि इस डील में भ्रष्टाचार उसी समय उजागर हो गया जब इससे सरकारी कंपनी एचएएल को दरकिनार कर दिया गया और ये कॉन्ट्रैक्ट एक ऐसी कंपनी को दे दिया गया, जिसे इस क्षेत्र का कोई अनुभव नहीं था।

‘राफेल घोटाले की खबर करने वाले पत्रकारों को दी जा धमकी’

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राफेल विमान सौदे में अनियमितताओं का आरोप दोहराते हुए सोमवार (30 जुलाई) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर फिर निशाना साधा। उन्होंने दावा किया कि ‘राफेल घोटाले’ की खबर करने वाले पत्रकारों को धमकी दी जा रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने परोक्ष रूप से प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा, ‘‘सर्वोच्च नेता के लोग राफेल घोटाले की खबर कर रहे पत्रकारों को धमकी भरे संदेश भेज रहे हैं और उनसे कह रहे हैं कि पीछे हटो या फिर….’’ उन्होंने आगे लिखा, ‘‘कुछ बहादुर पत्रकारों पर मुझे गर्व है जिनमें सच्चाई का बचाव करने और श्रीमान 56 के सामने खड़े होने की हिम्मत है।’’

गौरतलब है कि राफेल सौदे को लेकर राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी सरकार पर लगातार हमले कर रहे हैं। कांग्रेस ने इसी मामले को लेकर प्रधानमंत्री मोदी और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के खिलाफ लोकसभा में विशेषाधिकार हनन का नोटिस भी दे रखा है। पार्टी का आरोप है कि प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री ने राफेल मामले पर सदन को गुमराह किया।

बता दें कि ‘जनता का रिपोर्टर’ ने राफेल विमान सौदे को लेकर दो भागों (पढ़िए पार्टी 1 और पार्टी 2 में क्या हुआ था खुलासा) में बड़ा खुलासा किया था। जिसके बाद राजनीतिक गलियारों में भुचाल आ गया। कांग्रेस राफेल डील को लेकर मोदी सरकार पर सीधे तौर भ्रष्टाचार का आरोप लगा रही है। खुद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘जनता का रिपोर्टर’ की खबर को शेयर कर कई बार मोदी सरकार पर हमला बोल चुके हैं।

 

 

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here