सामाजिक कार्यकर्ता शबनम हाशमी को दिल्ली पुलिस के SI ने दी एनकाउंटर की धमकी, कहा- जिसके पास ‘आधार’ नहीं उसे मार दिया जाएगा

0

पिछले दिनों मुसलमानों के खिलाफ बढ़ती हिंसा और भीड़ द्वारा पीट-पीटकर की जा रही हत्याओं के विरोध में अपना पुरस्कार वापस करने वालीं मशहूर सामाजिक कार्यकर्ता शबनम हाशमी ने एक ऑडियो जारी कर दावा किया है कि दिल्ली पुलिस के एक सब-इंस्पेक्टर ने उन्हें एनकाउंटर की धमकी दी है। बता दें कि शबनम हाशमी एनजीओ ‘अनहद’ की संस्थापक सदस्य हैं।

हाशमी ने 16 मिनट का एक ऑडियो क्लिप जारी किया है, जिसमें वह दिल्ली पुलिस के तथाकथित एक सब-इंस्पेक्टर संदीप मलिक से बात करती सुनाई दे रही हैं। इस टेप में सब-इंस्पेक्टर लगातार शबनम को एनकाउंटर की धमकी देते हुए कह रहा है कि आप कुछ भी हों, अपने परिचय के लिए आइडेंटिटी कार्ड तो दिखाना होगा।

Also Read:  VIDEO: योगी के बाद अब शिवराज सरकार को भी नहीं पसन्द आई महिला पुलिस अफसर की ईमानदारी

हाशमी का दावा है कि क्लिप में सब-इंस्पेक्टर संदीप मलिक की आवाज है, जो बातचीत के दौरान उसने खुद बताया है। इस ऑडियो क्लिप में सब-इंस्पेक्टर शबनम को धमकाते हुए कह रहा है कि आपकाे पहचान पत्र दिखाना ही होगा। वह आगे कहता है, “सरकार ने एक नियम बनाया है कि अगर किसी के पास आधार नहीं है तो उसे घेरकर मार दो।’

शबनम हाशमी ने ऐसे किसी नियम की जानकारी न होने की बात कही तो उस तथाकथित सब-इंस्पेक्टर ने थाने पर आकर देखने की बात कही। फोन पर बात करने वाला तथाकथित सब-इंस्पेक्टर लगातार इस बात पर जोर दे रहा था कि आपके पास कोई आइडेंटिटी कार्ड नहीं है और धमकी दे रहा है।

Also Read:  ब्रिटिश PM थेरेसा मे का एलान- '8 जून को ब्रिटेन में होगा आम चुनाव'

हालांकि, ऑडियो वायरल होने के बाद दिल्ली पुलिस ने इस घटना को निंदनीय बताया है। दिल्ली पुलिस के मुख्य प्रवक्ता दीपेंद्र पाठक ने कहा, ‘अगर ऐसी कोई घटना घटी है तो यह बहुत निंदनीय है और इसकी जांच करके दोषी के खिलाफ नियमानुसार कठोर कार्रवाई की जाएगी।’

‘जनता का रिपोर्टर’ से शबनम ने बताई आपबीती 

‘जनता का रिपोर्टर’ से बातचीत करते हुए शबनम हाशमी ने कहा, ‘उनकी संस्था ‘पहचान’ में काम करने वाली एक महिला के पति हसीन नाम के शख्स को किसी ने 7065824289 नंबर से रात 9 बजे फोन किया और खुद को लाजपत नगर थाने में तथाकथित सब-इंस्पेक्टर होने की बात कह कर धमकी देने लगा।’

शबनम ने बताया कि, ‘जिसके बाद मैंने उसे फोन कर पूछा तो उसने मुझे भी गंदी-गंदी गालियां देने लगा। जिसे रिकॉर्डिंग ऐप न होने की वजह से मैं रिकॉर्ड नहीं कर पाईं।’ उन्होंने आगे बताया, ‘मैंने फोन काटकर फिर कुछ देर बाद उस तथाकथित सब-इंस्पेक्टर के फोन पर कॉल बैक किया और पूरी बातचीत को रिकॉर्ड की।’

Also Read:  योगी सरकार में भी अपराधियों के हौसले बुलंद, मुजफ्फरनगर में BJP नेता की सरेआम गोली मारकर हत्या

शबनम ने कहा कि, ‘मैंने पुलिसकर्मी से पूछा कि आप इतनी बदतमीजी से क्यों बात कर रहे हो, इस पर पुलिसकर्मी ने कहा कि एक अभियान चल रहा है घेरो और मारो।’ उन्होंने बताया कि, ‘एसआई ने उनसे कहा कि सरकार के नए नियमों के मुताबिक किसी के पास आधार कार्ड या पहचान पत्र नहीं है तो उसे घेरकर मार देंगे।’

(सुनिए ऑडियो क्लिप)

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here