PMC बैंक घोटाले के पीड़ित एक खाताधारक की हार्ट अटैक से मौत, अकाउंट में जमा थे 90 लाख रुपये

0

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-आपरेटिव (पीएमसी) बैंक घोटाले में फंसी जमाराशि निकालने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे जमाकर्ताओं में से एक खाताधारक की मौत हो गई। मृतक का नाम संजय गुलाटी बताया जा रहा है और वह 51 वर्ष के थे। कहा जा रहा है कि गुलाटी के करीब 90 लाख रुपये बैंक में जमा हैं।

90 लाख
फोटो: ANI

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, संजय गुलाटी मुंबई में बैंक के खिलाफ सोमवार (24 अक्टूबर) को प्रदर्शन करने के बाद घर लौटे थे। घर पर अचानक उन्हें हार्ट अटैक आ गया, इसके बाद तुरंत गुलाटी को अस्पताल लेकर जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि, खाताधारक के पीएमसी बैंक के खाते में करीब 90 लाख रुपये जमा है।

रिपोर्ट के मुताबिक, गुलाटी की पहले जेट एयरवेज से नौकरी चली गई थी, और अब सभी जमा पूंजी फंस गई थी। गुलाटी इसका सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाए।

दरअसल, पीएमसी बैंक के डूबने की खबरें फैलते ही लोग पैसे निकालने के लिए बैंक में उमड़ पड़े थे, जिससे अफरा-तफरी मच गई थी। पंजाब एंड महाराष्ट्र को ऑपरेटिव बैंक में ग्राहकों का 11500 करोड़ रुपया जमा है।

भारतीय रिजर्व बैंक ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के खाताधारकों को सोमवार को कुछ राहत भी दी थी। आरबीआई ने पीएमसी बैंक से पैसे निकासी की सीमा को 25,000 रुपये से बढ़ाकर 40,000 रुपये कर दिया था। यह तीसरी बार है जबकि रिजर्व बैंक ने पीएमसी के ग्राहकों के लिए प्रति खाता निकासी की सीमा बढ़ाई है। केंद्रीय बैंक ने 23 सितंबर को पीएमसी बैंक पर कई तरह की पाबंदियां लगाई थी। उसी समय प्रति ग्राहक छह माह में केवल 1,000 रुपये निकासी की सीमा तय की गई थी। केंद्रीय बैंक के इस फैसले की काफी आलोचना हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here