पुरी लोकसभा सीट से हार के बाद बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने तोड़ी अपनी चुप्पी, जानें क्या कहा

0

अपने विवादित बयानों की वजह से अक्सर ख़बरों में बने रहने वाले भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय प्रवक्ता और ओडिशा के पुरी संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से पार्टी के प्रत्याशी संबित पात्रा बीजेडी के पिनाकी मिश्रा से 11,000 से अधिक वोटों से हार गए हैं। संबित पात्रा के हार के बाद सोशल मीडिया यूजर्स हैरान है कि आखिर वह इस ‘मोदी लहर’ में भी चुनाव कैसे हार गए। वहीं, इस हार पर अब खुद संबित पात्रा के अपनी चुप्पी तोड़ी है।

पुरी
फोटो: सोशल मीडिया

हार के बाद बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने शुक्रवार को ट्विटर पर लिखा, “दोस्तों मैं पुरी में लगभग 11000 वोटों से चुनाव हार गया। लेकिन मैं अपने गुरु भगवान जगन्नाथ का शुक्रिया अदा करता हूं जिन्होंने मुझे अपने पवित्र निवास से चुनाव लड़ने का मौका दिया। मैं बीजेपी के कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करता हूं।”

इसके साथ ही उन्होंने अपने अधिकारिक ट्विटर हैंडल से ‘चौकीदार’ शब्द को भी हटा लिया। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकसभा चुनाव में भाजपा की प्रचंड जीत के लिए बधाई भी दी। गौरतलब है कि, इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने 542 में से 303 सीटें जीतीं है।

भगवान जगन्नाथ की भूमि पुरी लोकसभा सीट इस वजह से वीआईपी थी, क्योंकि यहां से बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा चुनाव मैदान में उतरे थे। संबित पात्रा का इस सीट पर मुकाबला एक ब्राह्मण नेता बीजेडी के पिनाकी मिश्रा था। बता दें कि संबित पात्रा खुद ब्राह्मण हैं और पुरी सीट भी ब्राह्मण बाहुल्य है।

पिनाकी मिश्रा से संबित पात्रा को 11713 वोटों से पटखनी दी। पिनाकी मिश्रा को कुल 538321 वोट मिले जबकि उनका वोट शेयर 47.4 फीसदी रहा। वहीं संबित पात्रा को 526607 वोट मिले और उनका वोट शेयर 46.37 फीसदी रहा। पुरी के साथ ही बीजेडी ने राज्य की 21 सीटों में से 12 सीटों पर जीत दर्ज की। वहीं बीजेपी को यहां 8 और कांग्रेस को एक सीट ही मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here