सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व प्रेमिका रिया चक्रवर्ती का इंटरव्यू लेने पर अर्नब गोस्वामी ने अपने पूर्व बॉस राजदीप सरदेसाई पर साधा निशाना, करण जौहर के चैट शो ‘कॉफी विद करण’ से की इसकी तुलना

2

अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के विवादास्पद एंकर और संस्थापक अर्नब गोस्वामी ने दिवंगत बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पूर्व प्रेमिका रिया चक्रवर्ती का इंटरव्यू लेने पर अपने पूर्व बॉस राजदीप सरदेसाई पर जमकर निशाना साधा। रिपब्लिक टीवी के संस्थापक ने कहा कि राजदीप सरदेसाई के इस इंटरव्यू को सर्वश्रेष्ठ रूप से करण जौहर के चैट शो ‘कॉफी विद करण’ भी कहा जा सकता है।

अर्नब गोस्वामी

अर्नब गोस्वामी ने गुरुवार को कहा कि, “आज भारत के 130 करोड़ लोगों के साथ धोखाधड़ी हुई है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह ‘तक’ लोग रिया चक्रवर्ती को एक मंच प्रदान कर रहे हैं, जिनकी गिरफ्तारी की मांग पूरा देश कर रहा है। क्या देश भूल सकता है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती मुख्य आरोपी हैं? क्या देश यह भूल सकता है कि सुशांत मामले में रिया मुख्य संदिग्ध है? क्या उसे एक मंच प्रदान करने से एक महामानव के रूप में एक संदिग्ध प्रोजेक्ट करने का प्रयास किया जाता है।”

गोस्वामी यहीं नहीं रुके। सुशांत सिंह राजपूत के परिवार का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील विकास सिंह के साथ अपनी बातचीत के दौरान गोस्वामी ने आजतक टीवी चैनल और राजदीप सरदेसाई के द्वारा लिए गए रिया चक्रवर्ती के इंटरव्यू को ‘कॉफी विद तक’ कहकर पुकारा। उन्होंने कहा, ”उन्होंने दावा किया कि रिया बोलेंगी और बताएंगी। रहस्य।” गोस्वामी ने कहा, “यह मत भूलो कि वह (सरदेसाई) वही आदमी है, जिसने सुशांत सिंह राजपूत को एक साधारण अभिनेता घोषित किया था।”

बता दें कि, अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के विवादास्पद एंकर और संस्थापक अर्नब गोस्वामी हमेशा अपने शो को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर रहते है। उनका शो हमेशा किसी न किसी कारण विवादों में बना ही रहता है। अर्नब गोस्वामी ने भाजपा नेता राजीव चंद्रशेखर और भाजपा समर्थक मोहनदास की मदद से बड़े ही धमाके के साथ 6 मई 2017 को अपने नए इंग्लिश चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च किया था, जिसके बाद से ही वह लगातार विवादों में रहे हैं। अर्नब गोस्वामी को उनके आलोचक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समर्थक करार देते हैं।

2 COMMENTS

  1. मुझे तो आप ही पूर्वाग्रह से ग्रस्त दिख रहे हैं, आप अर्णब को विवादास्पद क्यों बता रहे हैं जनाब ?????

    वो ही तो एक पत्रकारिता करते नजर आ रहे हैं बाकी सब तो बिके हुए हैं, उन्ही की मेहनत है कि आज सुशांत को इंसाफ मिलने की उम्मीद जगी हुई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here