‘रिपब्लिक टीवी’ के रिपोर्टरों को कांग्रेस दफ्तर में नहीं मिली एंट्री, अर्नब गोस्वामी को बताया बेईमान पत्रकार

0
3

वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी और कांग्रेस के बीच जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। अर्नब के चैनल रिपब्लिक टीवी का पहले से ही बहिष्कार कर चुकी कांग्रेस पार्टी के नेता अब अपने प्रेस कॉन्फेंस से भी चैनल के रिपोर्टरों के लिए दरवाजे बंद कर दिए है। जी हां, ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी की एक प्रेस कान्फ्रेंस में रिपब्लिक के रिपोर्टरों को गेट के अंदर आने से रोक दिया गया।

दरअसल, कांग्रेस पार्टी के दफ्तर में AICC की तरफ से एक बैठक बुलाई गई, जिसके लिए कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी के दो नए विभागों को अनुमति दे दी। पहला ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस और दूसरा ऑल इंडिया अन ऑर्गनाइज्ड वर्कर्स कांग्रेस।

रिपोर्ट के मुताबिक, ऑल इंडिया प्रोफेशनल कांग्रेस का अध्यक्ष पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर को नियुक्त किया गया है। मीडिया को इसकी जानकारी देने के लिए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया था। अध्यक्ष बनने के बाद थरूर को इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों से रूबरू होना था।

इसे कवर करने के लिए अन्य मीडियाकर्मियों सहित रिपब्लिक टीवी के भी दो रिपोर्टर कांग्रेस दफ्तर पहुंचे, लेकिन इन दोनों रिपोर्टरों को गेट पर ही रोक दिया गया। इस दौरान रिपोर्टर बार-बार अंदर नहीं जाने देने को लेकर वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों और कांग्रेस नेताओं से सवाल पूछते रहें, लेकिन उनसे यही कहा जाता रहा कि आप लोग अंदर नहीं जा सकते।शख्स ने पूछा- कौन है अर्नब?

दोनों पत्रकारों में से एक रिपोर्टर ने जब उन्हें अंदर जाने से रोकने वाले एक शख्स से अपने चैनल हेड अर्नब गोस्वामी से बात करवाने की कोशिश की तो वहां मौजूद अन्य कार्यकर्ता और भड़क गए। उस शख्स ने रिपोर्टर से पूछा, अर्नब है कौन? इतना ही नहीं कांग्रेस दफ्तर में मौजूद वह शख्स ने अर्नब गोस्वामी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि जवाब उसे दिया जाता है जो इमानदार होता है, वह इतना इमानदार है क्या? आज उसने(अर्नब) जो करोड़ों रुपए बनाए हैं वो सब बेईमानी से आए हैं।

वहीं, रिपब्लिक टीवी ने आरोप लगाया है कि उनके रिपोर्टरों के साथ बदसलूकी के साथ-साथ उनपर पर हमला भी किया गया है। अपने पत्रकारों के साथ हुई कथित बदसलूकी पर रिपब्लिक टीवी के चैयरमैन अर्नब गोस्वामी काफी नाराज दिखाई दे रे हैं। उन्होंने देश भर के पत्रकारों से पूछा है कि क्या अब आप लोग हंगामा नहीं करोगे?

रिपब्लिक का आरोप- थरूर के इशारे पर हुई बदसलूकी 

रिपब्लिक टीवी का कहना है कि सुनंदा पुष्कर मामले से जुड़े सवालों से बचने के लिए पूर्व केंद्रीय मंत्री और उनके पति शशि थरूर के इशारे पर उनके रिपोर्टरों के साथ बदसलूकी की गई है। क्योंकि उनका चैनल लगातार इस मामले को चला रहा है।

बता दें कि थरूर दिल्ली हाई कोर्ट में अर्नब गोस्वामी और रिपब्लिक टीवी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर चुके हैं। थरूर ने याचिका में अपनी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत से जुड़ी खबर के प्रसारण के दौरान उनके खिलाफ कथित रूप से मानहानिकारक टिप्पणियों के लिए 2 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग की है।

गौरतलब है कि वरिष्ठ पत्रकार वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी ने बड़े ही धमाके के साथ 6 मई 2017 को अपने नए इंग्लिश चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ को लॉन्च किया था। अर्नब ने आते ही सबसे पहले अपने पहले शो में राष्ट्रीय जनता दल(आरजेडी) के मुखिया लालू प्रसाद यादव और मोहम्मद शहाबुद्दीन के बीच बातचीत का एक टेप रिलीज कर सनसनी फैला दी। इसके बाद शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर मामले में एक फोन टैप चलाया था। जिसके बाद थरूर और अर्नब के बीच तनातनी जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here