अमित शाह के बेटे पर लगे आरोपों को राजनाथ सिंह ने बताया बेबुनियाद, कहा- जांच की जरूरत नहीं

0

केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार(10 अक्टूबर) को भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय अमित शाह की कंपनी पर लगाए गए आरोपों का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि, अमित शाह के बेटे के खिलाफ लगे आरोप निराधार हैं और इसमें किसी भी जांच की कोई जरूरत नहीं है।

समाचार एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, राजनाथ सिंह ने यह बात मंगलवार को दिल्ली में राष्ट्रीय जांच एजेंसी(एनआईए) के नए मुख्यालय का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस तरह के आरोप ‘‘समय-समय पर’’ लगाये गये हैं। उन्होंने समारोह के इतर पत्रकारों से कहा कि, इस तरह के आरोप पूर्व में पहले भी सामने आये हैं। समय-समय पर इस तरह के आरोप लगाये जाते रहे हैं। इनका कोई आधार नहीं है।

 

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने किया बचाव

अमित शाह के बेटे की कंपनी पर लगाए गए आरोपों का बचाव करते हुए पीयूष गोयल ने कहा कि अमित शाह की छवि खराब करने के लिए स्टोरी चलाई गई है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वेबसाइट ने झूठी खबर दिखाई है। जिसके बाद सोमवार को अमित शाह के बेटे ने न्यूज वेबसाइट ‘द वायर’ के संपादक, मैनेजिंग एडिटर सहित 7 लोगों के खिलाफ मानहानि का मामला दायर किया।

कांग्रेस ने बीजेपी पर साधा निशाना

जय अमित भाई शाह की कंपनी के टर्नओवर में भारी इजाफा के मामले को उठाते हुए कांग्रेस, आम आदमी पार्टी के अलावा अन्य राजनैतिक दलों ने जय शाह के कारोबारी सौदे के जांच की मांग की है। सिब्बल ने कहा कि कांग्रेस के किसी नेता पर 10 लाख की गड़बड़ी के आरोप क्यों न हो, उनके पीछे सीबीआई, ईडी लगा देते हैं।

क्रोनी कैपिटिलिज्म का आरोप लगा देते हैं। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह पर कितने केस चालू कर दिए। सिब्बल ने कहा कि क्या देश के प्रधान सेवक इस मामले पर अपना मुंह खोलेंगे?

जानिए क्या है मामला?

दरअसल, एक न्यूज वेबसाइट ‘द वायर’ ने एक रिपोर्ट में दावा किया था कि जैसे ही नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री और उनके पिता अमित शाह बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने जय शाह की कंपनी के टर्नओवर में आश्चर्यजनक रूप से इजाफा देखने को मिला।

रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2014-15 के दौरान जय शाह की कंपनी को कुल 50,000 रुपये की आमदनी पर कुल 18,728 रुपये का फायदा हुआ। लेकिन 2015-16 के वित्त वर्ष के दौरान जय की कंपनी का टर्नओवर लंबी छलांग लगाते हुए 80.5 करोड़ रुपये का हो गया। यह 2014-15 के मुकाबले 16 हजार गुना ज्यादा है।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here