राहुल गांधी ने PM मोदी से किया सवाल, पूछा- चीन पर चुप क्यों हैं प्रधानमंत्री

0

सीमा पर भारत-चीन के बीच चल रही तनातनी के बीच कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार(7 जुलाई) को सरकार से चीन से सिक्किम के डोकलाम इलाके में जारी गतिरोध को लेकर सवाल उठाया कि इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुप क्यों हैं। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पूछा कि, “हमारे प्रधानमंत्री चीन पर चुप क्यों हैं?”राहुल गांधी की यह टिप्पणी जर्मनी के हैम्बर्ग में ब्रिक्स नेताओं की बैठक में मोदी व चीन के राष्ट्रपति शी चिनफ‍िंग के आमने-सामने होने के बाद आई है। बता दें कि वहां दोनों नेताओं ने एक दूसरे से हाथ मिलाया, हालांकि दोनों के बीच कोई द्विपक्षीय वार्ता तय नहीं है।

इससे पहले चीन ने गुरुवार को कहा था कि माहौल सही नहीं होने से जी-20 सम्मेलन में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और पीएम मोदी की बैठक नहीं होगी। वहीं, उसके दावे को गलत बताते हुए भारत ने गुरुवार को ही कहा कि ऐसी कोई बैठक प्रस्तावित ही नहीं थी।

Also Read:  मुरादाबाद में बेटी की सगाई में बीफ बनाने कि पुलिस ने नहीं दी इजाजत, कहा- केवल चिकन बनाओ

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन दिन की अपनी ऐतिहासिक इजराइल यात्रा पूरी करने के बाद जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए जर्मनी के हैम्बर्ग शहर में हैं। हैम्बर्ग में 7-8 जुलाई को जी-20 शिखर-सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। पीएम मोदी की इजराइल की तीन दिवसीय यात्रा गुरुवार(6 जुलाई) को समाप्त हुई।

Also Read:  विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को एम्स से मिली छुट्टी

क्या है पूरा विवाद?

भारत और चीन के बीच गतिरोध डोकलाम में भारत, भूटान व चीन के तिराहे को लेकर है। चीन व भूटान दोनों डोकलाम पर दावा करते हैं। वहां, भारतीय सेना ने चीन को सड़क बनाने से रोका है। भारत को डोकलाम में चीन द्वारा सड़क बनाए जाने को लेकर आपत्ति जगह के स्वामित्व को लेकर है। यह विवाद वर्षों से लंबित है।

Also Read:  लेडी आॅफ द हार्ली’ वीनू पालीवाल की सड़क हादसे में मौत

डोकलाम भारत, चीन और भूटान सीमा के बीच एक तिराहा है। चीन भारत पर आरोप लगा रहा है कि वह भूटान के मामले में दखल दे रहा है। जबकि, भारत मानता है कि यह ऐसा इलाका है, जहां तीनों देशों की आपसी सहमति के बिना कोई बदलाव नहीं किया जा सकता। भारत मांग कर रहा है कि इस इलाके में यथास्थिति बनाए रखी जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here