धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के मामले में पंजाब पुलिस ने अभिनेत्री रवीना टंडन, फराह खान और भारती सिंह को किया तलब

0

पंजाब पुलिस ने बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री रवीना टंडन, डायरेक्टर कोरियॉग्रफर फराह खान और कमीडियन भारती सिंह को एक टीवी शो के दौरान एक समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के आरोप में दर्ज मामले में पूछताछ के लिए तलब किया है।

पंजाब पुलिस

समाचार एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस उपाधीक्षक सोहन सिंह ने मंगलवार को कहा कि उन्हें पुलिस जांच में शामिल होने के लिए नोटिस जारी किए गए थे। हालांकि, पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। उन्हें सिर्फ जांच में शामिल होने के लिए कहा गया है। उन्होंने आगे कहा कि वे जांच में शामिल होने के लिए कुछ और समय के लिए अनुरोध कर सकते हैं और पुलिस उन्हें कुछ और समय दे सकती है।

बता दें कि, 25 दिसंबर को प्रसारित एक टीवी शो के दौरान एक समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए उनके खिलाफ 26 दिसंबर को पहला मामला दर्ज किया गया था। इन तीनों के खिलाफ राज्य के फिरोजपुर और अमृतसर जिलों में भी इसी तरह के आरोप के तहत मामले दर्ज किए गए हैं। फिलहाल, पुलिस मामले की जांच कर रही है।

अजनाला ब्लॉक के ईसाई मोर्चा के अध्यक्ष सोनू जफर ने क्रिसमस की पूर्व संध्या पर प्रसारित शो की वीडियो फुटेज के साथ एक शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि तीनों ने टीवी शो के ईसाइयों की धार्मिक भावनाओं को आहत किया था। इन तीनों के खिलाफ आईपीसी की धारा 295-ए (किसी भी वर्ग की धार्मिक भावनाओं को अपमानित करना या उसके धार्मिक विश्वासों का अपमान करना) के तहत मामला दर्ज किया गया।

फराह खान और रवीना टंडन ने माफी मांगी थी। फिल्मकार ने ट्वीट किया था, ‘मैं सभी धर्मों का सम्मान करती हूं और मेरा उद्देश्य किसी का अनादर करना कभी नहीं होगा। पूरी टीम, रवीना टंडन, भारती सिंह और खुद अपनी ओर से… हम ईमानदारी से माफी मांगते हैं।’

वहीं, रवीना टंडन ने भी ट्वीट किया था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा था, ‘मैंने ऐसा कोई शब्द नहीं कहा जिसे किसी धर्म के अपमान के तौर पर समझा जा सकता है। हम तीनों (फराह खान, भारती सिंह और मैं) का कभी किसी का अपमान करने का इरादा नहीं रहा, लेकिन यदि हमने किया है तो मैं उन सभी से ईमानदारी क्षमा चाहती हूं जिन्हें ठेस पहुंची है।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here