यह दुखद है कि जो लोग गौरी लंकेश की हत्या का जश्न मना रहे थे, उनको प्रधानमंत्री फॉलो करते हैं- प्रकाश राज

0

हिंदी फिल्मों में विलने का किरदार निभाने वाले अभिनेता प्रकाश राज इन दिनों सुर्खियों में छाए हुए हैं। क्योंकि, सोमवार(2 अक्टूबर) को ऐसी ख़बरे आई थी कि प्रकाश राज ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या पर पीएम नरेंद्र मोदी की चुप्पी की निंदा करते हुए अपने नैशनल अवॉर्ड लौटाने का ऐलान कर दिया है। लेकिन देर रात उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट कर अवॉर्ड लौटाने की खबरों को खारिज कर दिया है।

प्रकाश राज

उन्होंने कहा कि, प्रकाश राज ने अपना नैशनल अवॉर्ड्स लौटाने का फैसला किया है, इस तरह की खबर चैनलों पर चलता देखकर मैं सिर्फ हंस ही सकता हूं। मैं इतना बेवकूफ नहीं हूं कि अपना नैशनल अवॉर्ड लौटा दूं, ये मुझे मेरे काम के लिए दिए गए हैं जिस पर मुझे काफी गर्व है। साथ ही उन्होंने कहा कि, इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र की चुप्पी से वह दुखी हैं। उन्होंने यह भी कहा, यह दुखद है कि जो लोग गौरी लंकेश की हत्या का जश्न मना रहे थे, उनको प्रधानमंत्री फॉलो करते हैं।

साथ ही उन्होंने कहा कि, हमें पता नहीं कि गौरी लंकेश और कलबुर्गी को किसने मारा। उन लोगों को किसने मारा, इस बात की जांच के लिए पुलिस विभाग है, एसआईटी है। हम सिर्फ यह देख सकते हैं कि इसका जश्न कौन मना रहा है और मुझे यह देखकर दर्द हुआ कि एक इंसान के मारे जाने का जश्न मनाया जा रहा है।

मेरा सवाल है कि क्या ऐसे लोगों को पीएम फॉलो करते हैं और पीएम उन पर कोई स्टैंड नहीं लेते हैं या फिर कोई टिप्पणी नहीं करते हैं, ऐसे में देश के एक नागरिक होने के नाते उनकी चुप्पी पर मुझे दुख हुआ है। आगे उन्होंने कहा कि, उनका संबंध किसी पार्टी से नहीं है लेकिन देश के एक नागरिक होने के नाते वह प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल उठा सकते हैं।

बता दें कि, इससे पहले प्रकाश राज ने पीएम मोदी के साथ-साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी पर भी निशाना साधते हुए कहा था कि, मैंने एक वीडियो देखा, वीडियो देखकर मैं नहीं कह सकता कि क्या वह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे या मंदिर पुजारी थे। ऐसा लगता है कि वह एक डबल भूमिका निभा रहे है जब मैं ऐसे प्रतिभाशाली कलाकारों को देखता हूं, तो मुझे उन सभी पांच राष्ट्रीय पुरस्कारों को लौटा देने का विचार महसूस होता है।

प्रकाश राज ने ये बातें रविवार को बेंगलुरू में डेमोक्रेटिक यूथ फेडरेशन ऑफ इंडिया की स्टेट मीट में कहीं थी। बता दें कि प्रकाश राज साउथ के साथ बॉलीवुड की कई सुपरहिट फिल्मों में विलेन के रोल में लोगों के बीच पहचान बना चुके हैं। उन्होंने सिंघम, वॉन्टेड जैसी फिल्मों में काम किया है।

बता दें कि, पत्रकार गौरी लंकेश की पांच सितंबर की रात को अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। गौरी वीकली टैबलॉइड ‘गौरी लंकेश पत्रिके’ की एडिटर थीं और इस टैबलॉइड के जरिए गौरी लगातार कम्युनल पॉलिटिक्स और कास्ट सिस्टम के खिलाफ लिखती थीं। वे राइट विंग और हिंदुत्व पॉलिटिक्स की भी विरोधी थीं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here