तेल में आग: दिल्ली में पहली बार पेट्रोल 80 रुपये के पार पहुंचा, सोशल मीडिया पर फूटा लोगों का गुस्सा

0

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल शनिवार को इतिहास में पहली बार 80 रुपये प्रति लीटर के स्तर को पार कर गया। शनिवार (8 सितंबर) को पेट्रोल का भाव 39 पैसे और डीजल 44 पैसे प्रति लीटर बढ़ाया गया। इससे दिल्ली में पेट्रोल का दाम 80.38 रुपये प्रति लीटर तथा डीजल 72.51 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गयी।

दिल्ली
file photo

वहीं, मुंबई में पेट्रोल की कीमत 38 पैसे बढ़कर 87.77 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल की कीमत 47 पैसे बढ़कर 76.98 रुपये प्रति लीटर हो गई है। वहीं, कोलकाता में पेट्रोल-डीजल क्रमशः 39 पैसे और 44 पैसे बढ़कर क्रमशः 83.27 रुपये और 75.36 रुपये प्रति लीटर की दर से बिक रहे हैं।

चेन्नै में पेट्रोल-डीजल के भाव क्रमशः 83.54 रुपये और 76.64 रुपये प्रति लीटर हैं। आज पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ने के लिहाज से चेन्नै सबसे टॉप पर रहा है। यहां पेट्रोल 41 पैसे जबकि डीजल 47 पैसे महंगा हो गया है।

दिल्ली में पेट्रोल 80 रुपये के पार पहुंचने पर सोशल मीडिया यूजर्स मोदी सरकार पर जमकर निशाना साध रहे है। लोग  कह रहें है कि, ‘दिल्ली में पेट्रोल 80 के पार पहुंच गया है अब तो बस कर दो मोदी सरकार।’

देखिए कुछ ऐसे ही ट्वीट

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, विपक्षी दलों ने लगातार बढ़ती ईंधन कीमतों को लेकर सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है। मध्य अगस्त के बाद से पेट्रोल 3.24 रुपये प्रति लीटर और डीजल 3.74 रुपये प्रति लीटर बढ़ चुका है। यह पिछले साल जून में ईंधन कीमतों में दैनिक समीक्षा शुरू करने के बाद किसी भी पखवाड़े में हुई सर्वाधिक वृद्धि है। पेट्रोल-डीजल की कीमतों में करीब 50 प्रतिशत योगदान केंद्र सरकार एवं राज्यों के कर का होता है।

बता दें कि पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस ने 10 सितंबर को ‘भारत बंद’ का किया ऐलान है।कांग्रेस ने गुरुवार (6 सितंबर) को एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार के जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस 10 सितंबर को भारत बंद करेगी।

प्रेस कॉन्फेंस में शामिल कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि हम सब ने मिलकर इस सरकार को जगाने के लिए और देश भर के लोगों के आक्रोश की भावना का सम्मान करते हुए 10 तारीख को भारत बंद का आवाह्न किया है।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here