महिला कर्मचारियों को पीरियड्स के दौरान ‘पेड लीव’ देगा ये न्यूज चैनल

0

भारत में एक ऐसा संस्थान हैं जहां अब महिला कर्मचारियों को पीरियड में छुट्टी के लिए दूसरा बहाना नहीं खोजना पड़ेगा। जी हां, एक मीडिया कंपनी ने अपने महिला कर्मचारियों को पीरियड्स(माहवारी) के पहले दिन ‘पेड लीव’ देने की घोषणा की है। यानी एक वर्ष में महिला कर्मचारियों को 12 छुट्टी मिलेगी। कंपनी में काम करने वाली महिला कर्मचारी इस खबर से बेहद उत्साहित हैं।

NDTV

इससे पहले पिछले दिनों मुंबई की एक डिजिटल मीडिया कंपनी ने अपने महिला कर्मचारियों को पीरियड्स के पहले दिन पेड लीव देने की घोषणा की थी। इस डिजिटल कंपनी के फैसले से प्रभावित होकर अब केरल के मशहूर न्यूज चैनल ने इस दिशा में कदम बढ़ाते हुए पीरियड लीव की घोषणा कर दी है।

केरल के न्यूज चैनल माथ्रूभूमि ने अपने महिला कर्मचारियों को उनके पीरियड्स के दौरान एक दिन की वेतन सहित छुट्टी देने की घोषणा की है। इस फैसले का एलान करते हुए चैनल ने कहा है कि उन्होंने माथ्रूभूमि टीवी चैनल के महिला कर्मचारियों के लिए यह अहम फैसला लिया है।

चैनल ने अपने बयान में कहा है कि यह फैसला काम के अधिक घंटे होने की वजह से होने वाले तनाव को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। माथ्रूभूमि ग्रुप के ज्वॉइंट मैनेजिंग डायरेक्ट मवी स्रेयमकुमार ने बुधवार(19 जुलाई) को एक वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अपने कर्मचारियों को ये खुशखबरी देते हुए कहा कि अब पीरियड्स के किसी भी दिन महिला कर्मचारी छुट्टी ले सकती है।

कुमार ने यह कहा कि यह सुविधा टीवी कर्मचारियों को इस वजह से दी गई है, क्योंकि टीवी पत्रकारों को सबसे अधिक तनाव झेलना पड़ता है और उन्हें अलग-अलग शिफ्ट में काम करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि हमने पीरियड्स के दौरान महिलाओं को होने वाली समस्याओं के मद्देनजर यह फैसला लिया है। कुमार ने बताया कि मुंबई की कंपनी के फैसले ने उन्हें प्रभावित किया।

साथ ही उन्होंने कहा कि महिला कर्मचारियों को इस बात की आजादी है कि वे या तो पीरियड्स के पहले दिन छुट्टी लें या किसी और दिन, हर महिला को पीरियड्स के दौरान अलग-अलग दिन में समस्या होती। उन्होंने कहा कि इसे महिलाओं के लिए किसी खास ‘छूट’ की तरह नहीं देखा जाना चाहिए।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस कंपनी में कुल 300 कर्मचारी काम करते हैं, जिनमे से 75 महिला कर्मचारी हैं। सभी महिला कर्मचारी इस फैसले से बेहद खुश हैं। उनका कहना है कि कंपनी के इस फैसले ने उन्हें और अधिक मेहनत करने के लिए प्रभावित किया है। बता दें कि न्यूज चैनल से पहले मुंबई की मीडिया कंपनी कल्चर मशीन ने महिलाओं की परेशानियों को ध्यान में रखते हुए पेड लीव देने का फैसला लिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here