अमेरिका ने कहा- आतंकियों का सुरक्षित पनाहगाह है पाकिस्तान

0

अमेरिका ने एक रिपोर्ट में बुधवार(19 जुलाई) को कहा कि पाकिस्तान उन देशों और क्षेत्रों में से एक है जो अपने यहां आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया कराता है। इसमें कहा गया कि लश्कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्मद जैसे आतंकी गुट उसकी सरजमीं से संचालन के साथ ही अपने दहशतगर्दो को प्रशिक्षित कर रहे और पैसे जुटा रहे हैं।अमेरिकी विदेश विभाग ने अपनी सालाना कंट्री रिपोर्ट ऑन टेररिज्म में कहा है कि पाकिस्तानी सेना और सुरक्षा बल केवल तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान जैसे उन आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई करते हैं जो उसके यहां हमले करते हैं। वह अफगान तालिबान या हक्कानी जैसे आतंकी गुटों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता जो अफगानिस्तान में अमेरिकी हितों को नुकसान पहुंचाते हैं। यह रिपोर्ट हर साल अमेरिकी कांग्रेस में पेश की जाती है।

वर्ष 2016 की रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान ने अपने यहां से आतंकी गतिविधियां चला रहे लश्कर ए तैयबा और जैश ए मोहम्मद जैसे आतंकी गुटों के खिलाफ पर्याप्त कार्रवाई नहीं की। एक अलग चैप्टर में अमेरिकी विदेश विभाग ने पाकिस्तान को आतंकियों के सुरक्षित पनाहगाह देश के रूप में चिन्हित किया है।

इसके अनुसार हक्कानी नेटवर्क, लश्कर और जैश जैसे कई आतंकी गुट पाक से संचालित हो रहे हैं। लश्कर प्रतिबंधित है लेकिन वह जमात उद दावा और फलाही इंसानियत फाउंडेशन के नाम पर खुलेआम पैसा जुटा रहा है। रिपोर्ट में कहा गया है कि लश्कर प्रमुख हाफिज सईद खुलेआम पाकिस्तान में लगातार रैलियां कर रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here