VIDEO: अभिनेत्री व TMC सांसद नुसरत जहां ने ली लोकसभा सदस्यता की शपथ, स्पीकर ओम बिड़ला के पैर छूकर लिया आशीर्वाद

0

बंगाली फिल्मों की स्टार और तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़कर पहली बार सांसद बनीं नुसरत जहां और मिमी चक्रवर्ती ने मंगलवार (25 जून) को लोकसभा सदस्यता की शपथ ली। इस दौरान सत्ता पक्ष एवं विपक्ष के नेताओं ने मेजें थपथपाकर दोनों का अभिनदंन किया। दोनों ही सांसद अब तक सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं हुई थीं और इस वजह से शपथ नहीं ले सकी थीं। संसद सत्र में नुसरत पारंपर‍िक अंदाज में नजर आईं। उन्होंने माथे पर स‍िंदूर, हाथों में मेहंदी और चूड़ा पहना हुआ था।

PTI

लोकसभा में पहले दिन अपने वेस्टर्न ड्रेस के कारण ट्रोल होने वाली दोनों सांसद मंगलवार को पारंपरिक परिधान में नजर आईं। नुसरत और मिमी ने बांग्ला भाषा में शपथ ग्रहण की और इसके बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला के पैर छूकर आशीर्वाद लिया। स्पीकर ने भी मुस्कुराकर हाथ जोड़कर दोनों का अभिवादन किया। मिमी ने शपथ से पहले लोकसभा में मौजूद सभी वरिष्ठ सांसदों का आभार भी जताया। शपथ के बाद दोनों सांसदों ने वंदे मातरम भी बोला।

बशीरहाट से सांसद नुसरत जहां पूरी तरह से पारंपरिक सफेद रंग की बंगाली तांत की साड़ी में नजर आईं। संसद में मिमी के साथ पहुंची नुसरत काफी खुश नजर आ रही थीं। उन्होंने नई दुल्हन की तरह हाथों में लाल चूड़ा पहन रखा था और मांग में सिंदूर लगा रखा था। वहीं, जाधवपुर सीट से बड़ी जीत दर्ज कर लोकसभा पहुंची मिमी चक्रवर्ती सफेद रंग के सलवार-सूट में दिखाई दीं।

नुसरत बंगाली फिल्मों की जानी मानी अभिनेत्री हैं। उन्होंने लोकसभा चुनाव 2019 में पश्चिम बंगाल की बशीरहाट सीट से करीब तीन लाख से ज्यादा वोटों से चुनाव जीता था। नुसरत ने ब‍िजनेसमैन न‍िख‍िल जैन संग 19 जून को टर्की के बोडरम स‍िटी में शादी की थी। शादी में व्यस्तता के चलते नुसरत संसद सत्र के पहले द‍िन शपथ लेने नहीं पहुंच सकी। इस शादी समारोह में नुसरत की करीबी दोस्त मिमि चक्रवर्ती भी पहुंची थी।

दोनों ही स्टार को सोशल मीड‍िया पर इस वजह से काफी ट्रोल किया गया था। यूजर्स का कहना था कि शादी और र‍िसेप्शन के लिए नुसरत जहां के पास समय है, लेकिन संसद में शपथ लेने के लिए वक्त नहीं। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकसभा में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर संबोधित कर सकते हैं। पीएम मोदी अपनी सरकार की आगामी पांच साल की योजनाओं के बारे में चर्चा कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here