#NotInMyName ‘तुम्हारे हाथों में खंजर-हमारे सीनों में खुलूस, तुम चंद सियासी मोहरे-हम जुनैद बेशुमार’

0

समाज को बांटने वालों के खिलाफ, ज़हर फैलाने वालों के खिलाफ, भीड़ के नाम पर लोगों को मार देने के नाम पर, लोकतंत्र को भीड़तंत्र में बदलने वालों के खिलाफ आज श्माम जंतर-मंतर पर आयोजित मुहिम में देश के दिग्गजों ने हिस्सा लिया। तस्वीरों के माध्यम से हम आपको दिखा रहे है कि इस मुहिम के साथ आवाज मिलाने के लिए कितनी आवाजे़ जमा हुई थी।

जबकि इस कार्यक्रम की विशेष कवरेज के लिए जनता का रिपोर्टर के प्रधान संपादक रिफत जावेद खुद वहां मौजूद रहें।

जंतर-मंतर

देश के कई शहरों में हजारों लोग सड़कों पर उतरकर सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज करा रहे हैं। दिल्ली में जंतर-मंतर पर शाम 6 बजे से कई हजारों की संख्या हर समुदाय के लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रदर्शन में भीड़ द्वारा जगह-जगह की जा रही हत्याओं के खिलाफ आवाज उठाई जा रही है।

जब ‘जनता का रिपोर्टर’ के प्रधान संपादक रिफत जावेद ने लोगों से पूछा कि आप यहां क्यों आए है? तो इसके जवाब में लोगों ने बताया कि वह देश को तोड़ने वाली ताकतों के खिलाफ यहां जमा हुए है। बातचीत के दौरान लोगों ने बताया कि वह देश की एकता को इस तरह से खंडित नहीं होने देगें।

बता दें कि ‘नॉट इन माइ नेम’ शीर्षक से हो जा रहा यह प्रदर्शन दिल्ली के अलावा कोलकाता, हैदराबाद, तिरुवनंतपुरम और बेंगलुरु में भी हो रहा है। यह अभियान सोशल मीडिया पर आग की तरह फैल गया है। इस अभियान की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह विरोध-प्रदर्शन बिना किसी नेता का हो रहा है।

साथ ही यह प्रदर्शन किसी भी पार्टी या संगठन के बैनर तले नहीं हो रहा है। इस अभियान से भारी संख्या में लोगों ने भाग लिया है। जंतर-मंतर पर हजारों लोगों ने मुसलमानों के खिलाफ हो रही हिंसा के विरोध में सड़कों पर उतरने का संकल्प लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here