दिल्ली: मैक्स अस्पताल पर लगा लापरवाही का आरोप, जिंदा नवजात को मृत घोषित कर परिवार वालों को सौंपा

0

गुरुग्राम के फोर्टिस अस्पताल के बाद अब राजधानी दिल्ली के शालीमार बाग स्थित मैक्स अस्पताल में डॉक्टरों की लापरवाही का मामला सामने आया है, जो बेहद ही चौका देंने वाला है। अस्पताल के डॉक्टरो ने जिंदा नवजात को मृत घोषित कर परिवार वालों को सौंप दिया, बाद में यह बच्चा जिंदा निकला। परिवार वालों को अस्पताल की लापरवाही का पता तब चला जब पैकेट में बच्चा अचानक पैर चलाने लगा।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार (30 नवंबर) को अस्पताल में एक महिला ने जुड़वां बच्चे को जन्म दिया था, जिसमें एक लड़का और एक लड़की थे। डॉक्टरों ने एक बच्चे को पहले ही मृत घोषित कर दिया। जिसके कुछ देर बाद ही डॉक्टरों ने दूसरे बच्चे को भी मृत घोषित कर दिया, इसके बाद परिवार वालों की खुशियां गम में बदल गई।

जिसके बाद अस्पताल ने दोनों बच्चों के शव को पैकेट में पैक करके शव को परिजनों को सौंप दिया। परिवारजन जब कार से मधुबन चौक तक पहुंचे तो अचानक लड़के की सांसे चलने लगी और उसने पैकेट के अंदर पैर हिलाने शुरू कर दिए।

जिसके बाद बच्चे को जिंदा सोचकर घरवालों ने उसे फौरन नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। अस्पताल में डॉक्टरों ने बताया कि बच्चा जिंदा है और उसकी सांसें चल रही हैं। घरवालों ने उम्मीदों से दूसरे बच्चे के बारे में भी पूछा पर डॉक्टरों ने उसे मृत ही बताया।

पीड़ित परिवार ने मैक्स अस्पताल जाकर हंगामा किया औऱ पुलिस को सूचना देकर शालीमार बाग थाने में मामला दर्ज करा दिया है।  फिलहाल मां और बेटे का अस्पताल में इलाज चल रहा है। वहीं उत्तर पश्चिमी जिले की डीसीपी का कहना है कि जल्द ही केस दर्ज किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here