केंट ने आटा गूंथने की मशीन के भेदभाव दिखाने वाले अपने विज्ञापन के लिए माफी मांगी, आलोचनाओं के बाद हेमा मालिनी ने भी दी सफाई

0

बालीवुड की मशहूर अभिनेत्री और उत्तर प्रदेश के मथुरा लोकसभा सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की सांसद हेमा मालिनी अपने एक विज्ञापन को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गई है, लोग उनकी जमकर आलोचना कर रहे हैं। कई सोशल मीडिया यूजर्स उन पर एक निजी कंपनी के उत्पादक का गलत तरीके से विज्ञापन करने का आरोप लगा रहे है।

हेमा मालिनी

केंट के आटा एंड ब्रेड मेकर के विज्ञापन में कंपनी की ब्रांड एंबेसडर हेमा मालिनी और उनकी बेटी ईशा देओल ने कथित तौर पर घरेलू काम करने वालों को खराब तरीके से दर्शाया है। उन्हें संक्रमण के वाहक के रूप में दिखाया गया है। केंट ने यह अपने आटा और ब्रेड मेकर के विज्ञापन में लिखा था, ”क्या आप अपनी मेड को घर पर आटा गूंथने देते हैं? उनके हाथ इन्फेक्टेड हो सकते हैं।”

केंट ने बिना हाथ का इस्तेमाल किए आटा गूंथने वाले अपने उत्पाद में निवेश करने के लिए उपभोक्ताओं को प्रेरित किया है। विज्ञापन पर विवाद बढ़ता देख केंट ने बुधवार को एक बयान जारी करते हुए सार्वजनिक माफी मांगी। वहीं, कड़ी आलोचना के बाद अब हेमा मालिनी ने इस विज्ञापन को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

केंट ने बुधवार को एक बयान जारी करते हुए सार्वजनिक माफी मांगी। केंट के चेयरमैन महेश गुप्ता ने ट्विटर पर लिखा, ”मैं केंट आटा और ब्रेड मेकर के विज्ञापन के लिए माफी मांगना चाहता हूं। यह अनजाने में लेकिन गलत तरीके से प्रसारित किया गया है और इसे वापस ले लिया गया है।” उन्होंने आगे लिखा, ”हम सोसाइटी के सभी लोगों का सम्मान करते हैं और आपका समर्थन करते हैं।”

वहीं, हेमा मालिनी ने भी सार्वजनिक बयान जारी करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “हाल ही में केंट आटा के विज्ञापन में जो प्रतिक्रिया मिली है, वह मेरी मान्यताओं से मेल नहीं खाती और सही नहीं हैं। चेयरमैन इस गलती के लिए सार्वजनिक तौर पर पहले ही माफी मांग चुके हैं। मैं यहां यह साफ कर देना चाहती हूं कि मैं समाज के सभी वर्गों का सम्मान करती हूं और हमेशा उनके साथ खड़ी हूं।”

हेमा मालिनी ने कहा कि कंपनी ने अपना विवादास्पद विज्ञापन वापस ले लिया था। जबकि कई सोशल मीडिया यूजर्स ने कहा कि केंट का यह विज्ञापन घरेलू मदद से होने वाले भेदभाव को बढ़ाएगा। वहीं, कुछ यूजर्स भी थे जिन्होंने कहा कि इस विज्ञापन के संदेश में कुछ भी गलत नहीं था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here