जेएनयू पैनल ने कन्हैया को यूनिवर्सिटी से निकालने की सिफारिश की

0

जेएनयू विवाद पर गठित पैनल ने 9 फरवरी की घटना पर अपनी रिपोर्ट में कन्हैया कुमार और चार अन्य छात्रों को यूनिवर्सिटी से निकालने की सिफारिश की है।

पैनल ने शुक्रवार को अपनी रिपोर्ट सौंपी थी।

जेएनयू स्टूडेंट यूनियन के अध्यक्ष, कन्हैया कुमार ने पैनल की रिपोर्ट को निराधार बताया है और उसने कहा है कि वह पैनल के निष्कर्ष को नहीं मानेंगे ।

Also Read:  अमिताभ बच्चन को समर्पित चांद साधवानी का नया गाना 'सुपर स्टार' हुआ वायरल

कन्हैया ने कहा, ” शुक्रवार को रिपोर्ट के जमा होने के बाद निलंबन का कोई मतलब नहीं है। हमने उन्हें कहा कि चाहे निलंबन का समय बीत चुका है लेकिन फिर भी छात्रों के निलंबित होने का मूल कारण बताना होगा। जवाब में उन्होंने कहा कि उनके पास रिपोर्ट है और वह उसे अगले हफ्ते पढ़ कर सुनाएंगे और बताएंगे की आगे की प्रक्रिया क्या होगी।”

Also Read:  Delhi Police chief BS Bassi turns poetic after meeting PMO officials

कन्हैया को दिल्ली पुलिस ने 12 फरवरी को यूनिवर्सिटी के अंदर कथित तौर पर भारत विरोधी नारें लगाने और देशद्रोह के आरोप में हिरासत में लिया था।

लेकिन बाद में दिल्ली पुलिस कोर्ट के सामने ऐसे कोई भी सबूत पेश करने में असफल रही थी और बाद में कन्हैया को उच्च न्यायालय से 6 महीने की अंतरिम जमानत मिल गयी ।

Also Read:  सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से पूछा- गाय के नाम पर हो रही हिंसक गतिविधियों को रोकने के लिए क्या किया?

कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा था कि क्या उसे पता भी हैं कि देशद्रोह क्या होता है ।

उधर यूनिवर्सिटी अधिकारीयों ने प्रोफेसर अमित शर्मा को नोटिस भेजा है जिन्हों ने कथित तौर पर यूनिवर्सिटी के दलित और मुस्लिम छात्रों को देशद्रोही बताया था ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here