भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन को आज छोड़ेगा पाकिस्तान, जानें भारत-पाक के बीच अब तक क्या हुआ

0

भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान शुक्रवार (1 मार्च) को अपने देश पहुंचने वाले हैं। जी हां, वायुसेना के जांबाज पायलट अभिनंदन की आज वतन वापसी होगी। पाकिस्तानी वायुसेना से लोहा लेने के दौरान पाक सरजीमीं पर गिरफ्तार होने वाले अभिनंदन को आज पाकिस्तान रिहा करेगा। पाकिस्तान ने विंग कमांडर अभिनंदन को शांति पहल के तहत छोड़ने की गुरुवार (28 फरवरी) को घोषणा की।

इसके कुछ ही घंटे पहले भारत ने उन्हें बिना शर्त रिहा करने का कड़ा संदेश दिया था। पाकिस्तान का यह कदम दोनों पड़ोसी देशों के बीच बढ़े तनाव को काफी हद तक दूर करेगा। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने संसद के एक संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि भारतीय वायुसेना के पकड़े गए पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा किया जाएगा। पाकिस्तानी सांसदों ने मेजें थपथपा कर इस घोषणा की सराहना की।

संसद में खान ने कहा, ‘‘शांति की हमारी कामना में, मैं घोषणा करता हूं कि कल (शुक्रवार को), और बातचीत शुरू करने के लिए पहले कदम के तौर पर, पाकिस्तान अपनी हिरासत में मौजूद भारतीय वायुसेना के अधिकारी को रिहा कर रहा है।’’ इस बीच, गुरुवार शाम भारतीय वायुसेना ने नई दिल्ली में कहा कि उसे खुशी है कि पाकिस्तान द्वारा पकड़े गए विंग कमांडर अभिनंदन कल घर लौटेंगे और इसे सदभावना संदेश के रूप में पेश किए जाने को खारिज कर दिया।

साथ ही, इस बात पर जोर दिया कि यह जिनीवा संधि के अनुरूप है। वायुसेना उप प्रमुख एयर वाइस मार्शल आर जी के कपूर ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमें खुशी है कि अभिनंदन कल (शुक्रवार को) छोड़ दिए जायेंगे और हम उनके लौटने को लेकर आशान्वित हैं।’’ यह पूछे जाने पर कि क्या वायु सेना इसे सदभावना संदेश के रूप में देखती है, उन्होने कहा कि हम इसे जिनीवा संधि की भावना के अनुरूप देखते हैं।

बता दें कि बुधवार को भारतीय वायुसेना और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान मिग 21 के गिरने के दौरान पायलट पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में उतर गया था। खबरों के मुताबिक विंग कमांडर ने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तान के एफ- 16 को मार गिराया था। इसके एक दिन पहले, भारतीय वायुसेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर बम गिराए थे।

पीटीआई के मुताबिक, सूत्रों ने बुधवार की पाकिस्तानी हरकत के बारे में बताया कि 20 से अधिक विमान भारतीय हवाई क्षेत्र की ओर आए थे जिनमें से कुछ ने एलओसी पार किया और भारतीय सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया। सूत्रों ने बताया कि उन्होंने लेजर गाइडेड बम दागे और वे सैन्य प्रतिष्ठानों पर गिरने से चूक गए। हालांकि, रक्षा मंत्रालय ने कहा कि इस बारे में पाकिस्तान का दावा झूठा है।

पाक लड़ाकू विमानों ने स्पष्ट रूप से नौशेरा और राजौरी सेक्टर में कई सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाया लेकिन भारतीय वायुसेना की गश्त टीम ने उन्हें नाकाम कर दिया। एक अधिकारी ने बताया कि पाक थल सेना ने भी पुंछ और राजौरी जिलों में गुरुवार को एलओसी से लगे नागरिक इलाकों में गोलाबारी की। इसमें एक महिला की मौत हो गई जबकि एक जवान घायल हो गया। भारतीय बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की।

पिता बोले- ‘बेटे की बहादुरी पर गर्व है’

पीटीआई के मुताबिक, अभिनंदन के पिता ने कहा कि उन्हें बेटे की बहादुरी पर गर्व है और उन्होंने लोगों के समर्थन और उनकी मंगल कामना के लिए उनका शुक्रिया अदा किया। एयर मार्शल (सेवानिवृत्त) एस वर्तमान ने एक बयान में अपने बेटे के कथित वीडियो का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने एक सच्चे सिपाही की तरह बोला जबकि वह बंदी बना लिए गए थे।

जानें भारत-पाक के बीच अब तक क्या हुआ

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले की जवाबी कार्रवाई के तौर पर भारतीय वायु सेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच इस वक्त तनाव काफी बढ़ गया है। यह तनाव तब शुरू हुआ जब 14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर किए गए आत्मघाती हमले में बल के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली थी।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने आतंकवादियों को मुंहतोड़ जवाब देते हुए उनकी कमर तोड़ दी। पीओके के आतंकी कैंप पर भारतीय वायुसेना ने मंगलवार तड़के हवाई हमला किया और उसके सारे कैंपों को तबाह कर दिया। पीटीआई के मुताबिक, भारतीय जवानों ने मंगलवार को तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को तबाह कर दिया, जिसमें काफी संख्या में आतंकवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए।

हालांकि, आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को भारतीय वायुसेना द्वारा तबाह किए जाने के एक दिन बाद बुधवार को पाकिस्तानी वायुसेना ने भारतीय नभक्षेत्र का उल्लंघन किया और सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने का असफल प्रयास किया। पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा के पास दोनों पक्षों की वायुसेनाओं के बीच भीषण झड़प के बाद विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को कब्जे में ले लिया। भारतीय वायुसेना और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान मिग 21 के गिरने के दौरान पायलट पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में उतर गया था।

इस झड़प में पाकिस्तान के एक विमान को मार गिराया गया और भारतीय वायुसेना को भी अपना एक मिग 21 खोना पड़ा। बुधवार को भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पाकिस्तानी सेना के कब्जे में होने की खबर जैसे ही सच साबित हुई, जिसके बाद देशभर में उनकी सलामती की दुआएं की जानें लगीं। भारत ने बुधवार को पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को तलब किया और दोनों देशों की वायुसेनाओं के बीच हवाई झड़प के बाद पाकिस्तान द्वारा हिरासत में लिए गए भारतीय पायलट की तत्काल और सुरक्षित वापसी की मांग की।

इस बीच भारत के सख्त तेवर से झुकने को मजबूर पाकिस्तान ने गुरुवार को भारतीय पायलट अभिनंदन को छोड़ने का ऐलान कर दिया। पाक संसद के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि भारतीय पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान हमारे सेना के हिरासत में हैं। उन्होंने कहा कि शांति की पहल के तौर पर शुक्रवार को अभिनंदन को भारत भेज दिया जाएगा। उनके इस फैसले का पाक सांसदों ने मेजे थपथपाकर स्वागत किया।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here