विदेशी नागरिकता को लेकर BJP सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी की शिकायत पर गृह मंत्रालय ने राहुल गांधी को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

0

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार (30 अप्रैल) को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को विदेशी नागरिकता को लेकर मिली शिकायत के बाद नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। गृहमंत्रालय ने यह नोटिस भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी की शिकायत मिलने के बाद जारी किया है। राहुल गांधी को 15 दिनों के अंदर गृह मंत्रालय के नोटिस का जवाब देना है। यह जानकारी मंगलवार को न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्वीट कर दी है।

राहुल गांधी

सुब्रहमण्यम स्वामी ने मंत्रालय को पत्र लिखकर राहुल गांधी की नागरिकता के बारे में शिकायत की थी। मंत्रालय ने शिकायत का संज्ञान लेते हुए राहुल गांधी को उनकी नागरिकता के बारे में 15 दिन के अंदर स्थिति स्पष्ट करने को कहा है। स्वामी कई सालों से आरोप लगा रहे हैं कि कांग्रेस अध्यक्ष के पास ब्रिटेन की नागरिकता है। इस लोकसभा चुनाव 2019 में राहुल गांधी उत्तर प्रदेश की अमेठी और केरल की वायनाड लोकसभा सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं।

अमेठी में पहले ही निराश हो चुकी है बीजेपी 

कुछ दिन पहले ही लोकसभा चुनाव में अमेठी से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे ध्रुवलाल ने रिटर्निंग अधिकारी से शिकायत की थी कि राहुल गांधी ने ब्रिटिश नागरिकता ने ली थी और इसलिए उनका नामांकन रद्द किया जाए। ध्रुवलाल के वकील रवि प्रकाश ने निर्वाचन अधिकारी के समक्ष राहुल की नागरिकता और शैक्षिक योग्यता को लेकर सवाल उठाया था। हालांकि बाद में निर्वाचन अधिकारी ने राहुल के नामांकन की जांच कर इसे वैध करार दिया था।

राहुल गांधी के नामांकन को योग्यता और नागरिकता के आधार पर चुनौती दी गई थी। रवि प्रकाश ने ब्रिटेन में पंजीकृत एक कंपनी के कागजात के आधार पर यह दावा किया था। साथ ही राहुल गांधी की शैक्षणिक योग्यता में त्रुटि का आरोप भी लगाया गया है। बीजेपी ने इस मुद्दे को फौरन लपकते हुए कांग्रेस और राहुल गांधी से जवाब मांगा था, लेकिन बाद में निराशा हाथ लगी।

राहुल गांधी पर स्वामी ने क्या लगाया है आरोप?

डॉ. स्वामी ने अपनी शिकायत में कहा है कि राहुल गांधी 2003 में ब्रिटेन हैंपशायर स्थित एक कंपनी के निदेशक मंडल में शामिल थे। कंपनी की 2005 और 2006 में दायर वार्षिक रिटर्न में राहुल गांधी की जन्मतिथि 19 जून 1970 बताई गई है और उन्होंने स्वयं को ब्रिटिश नागरिक बताया है। साल 2009 में भी इसी कंपनी के दस्तावेजों में राहुल गांधी को ब्रिटिश नागरिक बताया गया है। डॉ. स्वामी ने इसी संदर्भ में गृह मंत्रालय को यह शिकायत की थी। मंत्रालय ने शिकायत पर कार्रवाई करते हुए राहुल गांधी को नोटिस भेजा है।

गृह मंत्रालय ने राहुल गांधी से कहा है कि आपसे गुजारिश है कि इस मामले में वास्तविक स्थिति से इस पत्र के मिलने के एक पखवाड़े के भीतर मंत्रालय को अवगत कराएं। बता दें कि स्वामी ने गृह मंत्रालय को राहुल की नागरिकता के खिलाफ दो बार पत्र लिख चुके हैं। 21 सितंबर 2017 को भी बीजेपी सांसद ने इस बारे में एक शिकायत की थी। स्वामी ने 29 अप्रैल 2019 को भी पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने राहुल के ब्रिटिश नागरिक होने का दावा किया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here