पत्नी संग विदेश जा रहे जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल को मुंबई एयरपोर्ट पर रोका गया, यूजर्स बोले- ‘ये नया भारत है’

0

कर्ज तले दबी होने की वजह से बंद पड़े जेट एयरवेज के पूर्व चेयरमैन नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल को आव्रजन अधिकारियों ने शनिवार (25 मई) को मुंबई एयरपोर्ट पर विदेश के लिए उड़ान भरने से ठीक पहले रोक दिया। दोनों एमिरेट्स की उड़ान संख्या ईके 507 से दुबई होते हुए लंदन के लिए उड़ान भरने वाले थे। एयरपोर्ट के एक अधिकारी ने बताया कि विमान उड़ान भरने के लिए उड़ान पट्टी की तरफ जा रहा था, तभी उसे वापस पार्किंग में बुला लिया गया।

(Photo:Bloomberg News)

 

पीटीआई के मुताबिक एक अधिकारी ने कहा, ‘‘नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल ईके 507 उड़ान से लंदन जा रहे थे। उन्हें देश छोड़ने से रोक दिया गया।’’ जेट एयरवेज के एक सूत्र ने बताया कि दोनों चार बड़े सूटकेस के साथ यात्रा कर रहे थे। उसने कहा, ‘‘सारे सूटकेस अनीता गोयल के नाम से थे। ये सूटकेस भी विमान से उतार लिए गए जिससे उड़ान में एक घंटे से अधिक की देरी हुई।’’

रिपोर्ट के मुताबिक, उड़ान दोपहर तीन बजकर 35 मिनट पर रवाना होनी थी। दोनों को उतारने के बाद विमान ने शाम पांच बजे के बाद उड़ान भरी। नरेश गोयल से इस बारे में प्रतिक्रिया के लिए संपर्क नहीं किया जा सका है। एमिरेट्स की प्रतिक्रिया का इंतजार किया जा रहा है। गोयल दंपत्ति को देश से बाहर जाने से रोके जाने के स्पष्ट कारण का तत्काल पता नहीं चल सका है।

सूत्रों के अनुसार, नरेश गोयल बंद हो चुकी कंपनी जेट एयरवेज के बारे में विमानन कंपनी एतिहाद और हिंदुजा समूह के कार्यकारियों के साथ बैठक करने के लिए जा रहे थे। जेट एयरवेज का परिचालन नकदी संकट के कारण 17 अप्रैल से बंद है। पिछले सप्ताह हिंदुजा समूह ने कहा था कि वह जेट एयरवेज में निवेश करने के अवसर का मूल्यांकन कर रही है।

पिछले महीने जेट एयरवेज के अधिकारी एवं कर्मचारी संघ के अध्यक्ष किरण पावसकर ने मुंबई पुलिस आयुक्त को चिट्ठी लिखी थी। कई महीनों से कर्मचारियों का वेतन नहीं देने के लिए गोयल, अन्य निदेशकों और जेट एयरवेज प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारियों के पासपोर्ट जब्त करने का आग्रह किया गया था। नरेश गोयल और उनकी पत्नी अनीता गोयल ने मार्च में जेट एयरवेज के निदेशक मंडल से इस्तीफा दे दिया था। नरेश गोयल ने 26 साल पहले जेट एयरवेज की स्थापना की थी।

बता दें खराब वित्तीय हालत के चलते अस्थायी रूप से परिचालन बंद कर चुकी जेट एयरवेज के करीब 23 हजार कर्मचारियों के सामने रोजी रोटी का संकट आ गया है. विमानन कंपनी के कर्मचारी सड़कों पर हैं और वे लगातार सरकार से इसे फिर से चालू कराने की अपील कर रहे हैं। गोयल्स की भारत छोड़ने की खबर पर सोशल मीडिया खासकर माइक्रोब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर जमकर चर्चा हो रही है। ट्विटर यूजर्स गोयल को रोके जाने के साहसिक निर्णय के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की है।

देखें, लोगों की प्रतिक्रियाएं:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here