किसान आंदोलन के मद्देनजर हरियाणा सरकार पर संकट के बीच राजनाथ सिंह से मिले JJP नेता दुष्यंत चौटाला

0

हरियाणा में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) गठबंधन का हिस्सा जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के नेता और राज्य के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। बता दें कि, यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब किसान मुद्दें को लेकर सीएम मनोहर लाल खट्टर की कुर्सी पर संकट गहराया हुआ हैं।

दुष्यंत चौटाला

इस मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के बीच किसानों के मुद्दे और मौजूदा समय चल रहे आंदोलन को सुलझाने पर चर्चा हुई। दुष्यंत चौटाला ने किसानों के मुद्दों से राजनाथ सिंह को अवगत कराते हुए उसका हल निकालने के लिए जरूरी सुझाव भी दिए। दोनों नेताओं के बीच यह मीटिंग इसलिए भी अहम है कि सरकार की ओर से भेजे गए प्रस्ताव को किसान संगठनों की ओर से खारिज किए जाने के बाद फिलहाल दोनों तरफ से बातचीत का सिलसिला रुका हुआ है।

केंद्र सरकार की ओर से तैयार तीन कृषि कानूनों के खिलाफ पंजाब और हरियाणा के अंदरूनी इलाकों से आए हजारों किसान दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर से विरोध प्रदर्शन पर बैठे हैं। वे हरियाणा की सिंघु, टिकरी सीमा और उत्तर प्रदेश की गाजीपुर और चिल्ला सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं।

दुष्यंत चौटाला की पार्टी का हरियाणा के किसानों के बीच अच्छा जनाधार माना जाता है। उनकी पार्टी के कुछ विधायक किसान आंदोलन का समर्थन कर चुके हैं। दुष्यंत चौटाला पूर्व में कह चुके हैं कि किसानों की एमएसपी पर वह किसी तरह की आंच नहीं आने देंगे। अगर किसानों की एमएसपी प्रभावित हुई तो वह उप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे।

गौरतलब है कि, नए कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों के मुद्दे को लेकर केंद्र सरकार विपक्ष के साथ-साथ अपनी सहयोगी पार्टियों के भी निशाने पर आ गई है। हरियाणा में भाजपा गठबंधन का हिस्सा दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) में भी कृषि कानूनों को लेकर हरियाणा में सरकार से अलग होने की मांग तेज होने लगी है। इस मुद्दे को लेकर दुष्यंत चौटाला ने हाल ही में विधायकों के साथ एक बैठक की थी। (इंपुट: आईएएनएस के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here