तमिलनाडु: पशुओं की तस्करी को लेकर दो समूहों के बीच संघर्ष, भीड़ को रोकने के लिए पुलिस ने बरसाई लाठियां

0

तमिलनाडु में डिंडीगुल के पलानी जिले में पशुओं की तस्करी को लेकर दो समूहों के बीच हुए संघर्ष को नियंत्रित करने के लिए पुलिस का लाठीचार्ज करना पड़ा जिसमे करीब 5 लोग घायल हो गये। ख़बर के मुताबिक, चार घायलों को पलानी के सरकारी अस्‍पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

तस्करी

पीटीआई की ख़बर के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि विदुतलाई चिरूताइगल कात्ची वीसीके और सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी एसडीपी तथा हिन्दु मक्कल कात्ची और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच यह झाड़प हुई और पुलिस को हिंसा भड़कने से रोकने और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।

पुलिस का कहना है कि सात गायों और बछड़ों को एक छोटी लॉरी में बेहद क्रूरता के साथ ले जाया जा रहा था। तभी वहां से गुजर रहे एक सामाजिक कार्यकर्ता और पुजारी ने इसे देखा और लॉरी चालकों से सवाल किया। जिसके बाद उन्होंने मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को दी।

 

 

ख़बर के मुताबिक, पुलिस लॉरी को स्टेशन ले गयी और दस्तावेजों की जांच करने लगी। उसी दौरान वीसीके और एसडीपीआई कार्यकर्ताओं ने यातायात बाधित कर दिया और वाहनों तथा बसों पर पथराव करने लगे, पुलिस ने लाठीचार्ज कर भीड़ को तितर-बितर किया। ख़बर के मुताबिक, एक पक्ष का कहना था कि मवेशियों को पालन-पोषण के लिये ले जाया जा रहा था, जबकि दूसरे पक्ष का आरोप था कि उन्हें बिना परमिट के बूचड़खाना लेकर जा रहे थे।

देखिए वीडियो पुलिस ने कैसे बरसाई लाठियां:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here