सीमा पर तनातनी के बीच चीन ने दी धमकी, कहा- सेना हटाने तक भारत से नहीं होगी बातचीत

0

सिक्किम सीमा पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच जारी तनातनी की घटना के बाद चीन ने गुरुवार(29 जून) को भारत से सीमा विवाद पर बातचीत रोकने की धमकी तक दे डाली। बौखलाए चीन ने भारतीय सीमा के नजदीक तिब्बत में एक हल्के वजन वाले युद्धक टैंक का परीक्षण भी किया है।चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने कहा कि, ‘हम भारत से सेना को अपनी सीमा में बुलाने का आग्रह कर रहे हैं। सिक्किम सीमा से सेना हटाने तक भारत से सीमा विवाद पर कोई बातचीत नहीं होगी।’ कंग ने कहा कि सिक्किम विवाद को सुलझाने के लिए यह पूर्व शर्त है। इसी के आधार पर आगे की बातचीत होगी। हालांकि, कूटनीतिक चैनल पर इसका कोई असर नहीं होगा।’

चीन के इस बयान के बाद माना जा रहा है कि कैलास मानसरोवर यात्रा तुरंत शुरू नहीं होने वाली है। बता दें कि भारतीय और चीनी सेनाओं के बीच तनातनी के कारण चीन ने कैलाश मानसरोवर की यात्रा रोक दी थी। गौरतलब है कि सिक्किम के डोका ला में दोनों देशों की सेनाओं के बीच धक्कमुक्की हुई थी। डोका ला को चीन अपना हिस्सा बताता है।

कंग ने कहा कि डोका ला पुराने समय से चीन का हिस्सा है। यहां किसी प्रकार का विवाद नहीं है। हमारे पास इसे साबित करने के लिए पर्याप्त कारण हैं। इस इलाके में सड़क निर्माण एक संप्रभु राष्ट्र द्वारा अपनी सीमा में किया जा रहा है। यह पूरी तरह सही है।

बता दें कि इससे पहले चीन ने सिक्किम में भारत के एक पुराने बंकर को बुलडोजर से गिरा दिया है। यह घटना भारत, चीन और भूटान से सीमा पर स्थित डोका ला जनरल इलाके में हुई। सूत्रों ने कहा कि भारतीय बंकर तोड़े जाने की घटना जून के पहले सप्ताह में सिक्किम के डोका ला इलाके में हुई, जिससे सिक्किम क्षेत्र में भारत-चीन सीमा पर तनाव पैदा हो गया है।

सरकारी सूत्रों ने बुधवार(28 जून) को बताया कि भारतीय सेना द्वारा बंकर हटाने की चीन की मांग नहीं मानने पर चीनी सेना ने बुलडोजर लाकर बंकर को तोड़ दिया। इसके अलावा चीनी सेना ने यहां दो अस्थायी भारतीय बंकरों को भी तोड़ा। जून के पहले सप्ताह में हुई इस घटना के बाद दोनों देशों की सेना में झड़प हुई और तनाव कायम हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here