सत्ता की हनक में चूर बेटे की ‘गुंडागर्दी’ को बीजेपी विधायक ने बताया ‘बच्चों का मामला’, बोले- ‘हमें राई का पहाड़ नहीं बनाना चाहिए’

0
2

राजस्थान के बांसवाड़ा में सत्ता की हनक में चूर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक धन सिंह के बेटे की सरेआम गुंडागर्दी का वीडियो सामने आने के बाद बहस जारी है। आरोपी के पिता विधायक धान सिंह रावत ने इसे छोटी घटना करार दिया शर्मनाक बयान दिया है। बीजेपी विधायक का कहना है कि मामले को ज्यादा तूल नहीं देना चाहिए। रावत ने इस पूरे मामले को छोटे-मोटे बच्चों का मामला बताया है।

(HT File Photo)

 

बता दें कि विधायक के बेटे राजा ने एक शख्स की कथित तौर पर सिर्फ इस बात को लेकर जमकर पिटाई कर दी क्योंकि शख्स ने उसकी गाड़ी को आगे नहीं जाने दिया। समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक एक जून को हुई इस घटना का सीसीटीवी फुटेज अब सोशल मीडिया में वायरल हो गया है। वीडियो सामने आने के बाद राज्य में बीजेपी की साख पर दाग लगा है।

बसवारा से विधायक धन सिंह रावत ने कहा, ‘यह बच्चों से जुड़ा मामला है। हमें इसमें शामिल नहीं होना चाहिए। अगर कोई झगड़ा हुआ है तो यह गलत है लेकिन हमें राई का पहाड़ नहीं बनाना चाहिए।’ जनसत्ता के मुताबिक रावत ने कहा कि छोटे-मोटे बच्चों के झगड़े होते रहते हैं और मैं समझता हूं कि यह बच्चों-बच्चों की बात थी। आपस में इनका कोई मुकदमा नहीं हुआ। सब राजी-राजी हैं।

उन्होंने कहा कि समझौता इन बच्चों के स्तर पर हुआ होगा, लेकिन मुझे मालूम नहीं है। बच्चों के झगड़े में हमे नहीं पड़ना चाहिए। हमारा यह प्रयास है कि बच्चे ठीक लाइन पर चलें। मारपीट हुई तो गलत हुआ। मैं तो इतना ही कहना चाहता हूं कि बच्चों के मामले थे छोटे-मोटे निपट गया है। छोटे-मोटे मामलों को तिल का ताड़ नहीं बनाना चाहिए।

वहीं, नवभारत टाइम्स के मुताबिक इस मामले में राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि जिन्होंने नियम तोड़ा है उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा, ‘मुझे बताइए अगर मैंने किसी अपराधी को इसलिए बख्शा हो क्योंकि वह किसी प्रभावी शख्स का बेटा है लेकिन मामले की जांच होना जरूरी है।’

क्या है मामला?

दरअसल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि बांसवाड़ा से बीजेपी विधायक धान सिंह रावत के बेटे राजा कार चालक को बुरी तरह से पीट रहे हैं। वीडियो में साफ-साफ दिख रहा है कि बीजेपी विधायक का बेटा शख्स की गाड़ी को ओवरटेक करता है और रास्ता ब्लॉक कर देता है। इसके बाद वह अपनी स्कॉर्पियो से उतरता है और ड्राइविंग सीट पर बैठे शख्स की गाड़ी का गेट खोलकर उसे पीटना शुरू कर देता है।

इस दौरान शख्स गाड़ी से उतरकर भागने का प्रयास करता है। इस बीच विधायक के बेटे के अन्य सहयोगी भी आ जाते हैं और वे भी शख्स को पीटना शुरू कर देते हैं। यही नहीं, विधायक के बेटे के सहयोगी शख्स की गाड़ी को भी तोड़ते दिख रहे हैं और पत्थर फेंक रहे हैं। वहीं मौजूद लोग मौके पर पहुंचते हैं उसे समझाने की कोशिश करते हैं। लेकिन विधायक का बेटा कुछ भी मानने को तैयार नहीं।

इस घटना के बाद शख्स इतना दहशत में है कि वो विधायक के बेटे के खिलाफ केस तक दर्ज नहीं कराना चाहता है। इधर बीजेपी विधायक के बेटे की दबंगई का सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद पुलिस का कहना है कि इस मामले में अभी तक कोई केस दर्ज नहीं कराया गया है। इसलिए पुलिस इस मामले में कुछ नहीं कर सकती। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक विधायक के बेटे ने पीड़ित के साथ सुलहनामा भी कर लिया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here