आयकर विभाग ने जब्त की BJP नेता की 10 करोड़ की बेनामी संपत्ति

0
>

मध्य प्रदेश के भोपाल में आयकर विभाग ने शुक्रवार(14 जुलाई) को बड़ी कार्रवाई करते हुए भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) के नेता सुशील वासवानी की करीब 10 करोड़ की दो बेनामी संपत्तियां अटैच कर लिया है। बता दें कि पिछले वर्ष नोटबंदी के दौरान सहकारी बैंक में फर्जी खातों के जरिए करोड़ों रुपए जमा करने के मामले में इनकम टैक्स के छापे के चलते सुर्खियों में आए थे।इस संबंध में 20 दिसंबर 2016 को आयकर विभाग ने उनके खिलाफ छापे भी मारे थे। आयकर विभाग ने बेनामी एक्ट के तहत कार्रवाई की है। गौरतलब है कि राज्य सड़क परिवहन निगम में बस कंडक्टर से अपना करियर शुरू करने वाले सुशील वासवानी बीजेपी के रसूखदार नेता के रूप में जाने जाते हैं।

Also Read:  बच्चों के बलात्कार: मद्रास HC ने कहा अपराधियों को नपुंसक बनाने पर हो विचार

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, जांच में शामिल एक अधिकारी के बताया कि इन जब्त की गई दोनों बेनामी संपत्तियों की कीमत करीब 10 करोड़ रुपये आंकी गई है। इनमें से एक निर्माणाधीन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और दूसरी निर्माणाधीन मॉल है।

Also Read:  सेक्स में पार्टनर को संतुष्ट करने के लिए अपनाये ये आसान टिप्स

रिपोर्ट के मुताबिक, ये दोनों संपत्तियां कागजों में सनविजन इंफ्राटेक प्रा. लि. और गुरुमुख दास कॉन्ट्रैक्टर प्रा. लि. के नाम पर दिखाई गई है, जबकि वासवानी के पास से जब्त दस्तावेजों से पता चलता है कि इन दोनों संपत्तियों के मालिक बीजेपी नेता ही हैं।

 

बता दें कि पिछले वर्ष 8 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नोटबंदी के दौरान राजधानी के बैरागढ़ में स्थित वासवानी के संस्थापक अध्यक्ष वाली महानगर सहकारी बैंक पर आयकर विभाग ने छापे की कार्रवाई की थी। तभी से वासवानी की संपत्ति की जांच चल रही थी।

Also Read:  मुसलमानों के खिलाफ बढ़ती हिंसा के विरोध में सामाजिक कार्यकर्ता शबनम हाशमी ने लौटाया अपना पुरस्कार

मीडिया रिपोर्ट में बताया जा रहा है कि इस संबंध में पिछले दिनों आयकर विभाग ने सुशील वासवानी को नोटिस जारी किया था। इस मामले में आयकर विभाग ने सीबीडीटी से कार्रवाई की अनुमति मांगी थी। अनुमति मिलने के बाद आयकर विभाग ने वासवानी की संपत्ति अटैच करने का काम किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here