अनिल कपूर को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं फैन, अभिनेता ने दिया मजेदार जवाब

0

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के 10 दिन बाद भी भगवा सहयोगी दलों शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में सरकार में सत्ता बंटवारे को लेकर खींचतान जारी रहने के बीच एक सोशल मीडिया यूजर ने सलाह दी कि जब तक कोई रास्ता नहीं निकलता तब तक अभिनेता अनिल कपूर को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाया जाए। फैन के इस सलाह पर अनिल कपूर ने भी मजेदार जवाब दिया है।

अनिल कपूर

दरअसल, विजय गुप्ता नाम के एक ट्विटर यूजर ने अभिनेता, सीएम देवेंद्र फडणवीस और आदित्य ठाकरे को टैग करते हुए लिखा, “महाराष्ट्र में जब तक कोई रास्ता नहीं निकलता तब तक अनिल कपूर को ही मुख्यमंत्री बना कर देख लेते हैं। पर्दे पर उनके एक दिन का कार्यकाल पूरे देश ने देखा है और सराहा है। देवेंद्र फडणवीस और आदित्य ठाकरे क्या सोच रहे हैं??”

यूजर का यह ट्वीट देखते ही देखते सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया। इस बीच, इस ट्विटर यूज़र को जवाब देते हुए अनिल कपूर कहा है, “मैं नायक ही ठीक हूं।” इसके साथ उन्होंने चश्मा लगाए एक स्माइली वाली इमोजी भी शेयर की है। अनिल कपूर के इस ट्वीट पर लोगों ने भी जमकर मजे लिए हैं और कई लोगों को यह सलाह काफी पसंद भी आई है।

बता दें कि, फिल्म नायक में अनिल कपूर ने एक दिन के लिए सीएम की भूमिका में निभाई थी। इस फिल्म में अनिल कपूर के अलावा लीड रोल में रानी मुखर्जी, अमरीश पुरी और परेश रावल भी हैं। फिल्म में अनिल कपूर एक टीवी जर्नलिस्ट की भूमिका में होते हैं, जो सीएम को चैलेंज करता है कि उन्हें एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बनाया जाए। उन्हें एक दिन के लिए सीएम पद पर बिठाया भी जाता है और सिर्फ एक दिन में वह काफी कुछ बदलकर रख देते हैं।

गौरतलब है कि, उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी सत्ता के बंटवारे में 50-50 के फार्मूले पर अड़ी हुई है, जिसके तहत दोनों पार्टियों के पास ढाई-ढाई साल तक मुख्यमंत्री पद रहेगा। महाराष्ट्र में भाजपा और उसकी सहयोगी पार्टी शिवसेना ने मिलकर चुनाव लड़ा था, लेकिन चुनाव के बाद उसने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए हैं। वह राज्य में सत्ता के आधे बंटवारे के साथ ही ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग कर रही है, जिसे लेकर उसके और भाजपा के बीच खींचतान जारी है।

महाराष्ट्र में हाल ही में संपन्न विधानसभा चुनावों में भाजपा ने 105 और शिवसेना ने 56 सीटें जीती हैं और राज्य की अगली सरकार में सत्ता में भागीदारी को लेकर दोनों के बीच तकरार चल रही है। राकांपा और कांग्रेस ने क्रमश: 54 और 44 सीटें जीती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here