केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा, यूपी BJP अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह सहित भाजपा के कई दिग्गज नेता कोरोना वायरस से संक्रमित; उत्तर प्रदेश की मंत्री का कोरोना से निधन

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पूर्व अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा और तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित रविवार (1 अगस्त) को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए, वहीं उत्तर प्रदेश की कैबिनेट मंत्री कमल रानी का संक्रमण से रविवार को निधन हो गया। भाजपा की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह और प्रदेश सरकार के मंत्री महेंद्र सिंह भी कोरोना वायरस (कोविड-19) से ग्रसित हैं।

अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी में ट्वीट किया, “कोरोना के शुरुआती लक्षण दिखने पर मैंने जांच करवायी और रिपोर्ट में संक्रमण की पुष्टि हुई है। मेरी तबीयत ठीक है परन्तु डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं।” गृह मंत्री ने बीते कुछ दिनों के दौरान अपने संपर्क में आए लोगों से भी कोरोना वायरस की जांच कराने और पृथक-वास में रहने का अनुरोध किया। शाह देश में महामारी से लड़ने के प्रयासों का सक्रियता से नेतृत्व कर रहे हैं।

भाजपा अध्यक्ष जे पी नड्डा, कांग्रेस नेता राहुल गांधी, द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी समेत अनेक नेताओं ने गृह मंत्री के जल्द स्वस्थ होने की कामना की।

 

उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह में भी कोरोना वायरस (कोविड-19) की पुष्टि हुई है और वह डॉक्टरों की सलाह पर घर में पृथक-वास में रह रहे हैं। सिंह ने रविवार को हिंदी में ट्वीट कर यह जानकारी दी। उन्होंने लिखा, “मुझे कोरोना के शुरुआती लक्षण दिख रहे थे जिसके चलते मैंने अपनी कोविड-19 की जाँच कराई। जाँच में मेरी रिपोर्ट कोरोना पॉज़िटिव आई है। मुझसे संपर्क में आने वाले सभी लोगों से मेरा निवेदन है कि वह गाइडलाइन के अनुसार स्वयं को क्वारंटाइन कर ले और आवश्यकता अनुसार अपनी जाँच करा ले।”

उन्होंने अपने ट्वीट में आगे लिखा, “डॉक्टर की सलाह पर मैं वर्तमान में अपने आवास पर होम क्वारंटाइन हूँ। मेरा सभी प्रदेश्वासियों से निवेदन है कि पूरी सावधानी बरतें और सरकार की गाइडलाइन का सख़्ती से पालन करे।”

इस बीच, उत्तर प्रदेश की तकनीकी शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण का लखनऊ स्थित संजय गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में रविवार सुबह निधन हो गया। वह कोरोना वायरस से संक्रमित थीं। कानुपर में शाम को कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार उनकी अंत्येष्टि की गई। यह प्रदेश में कोरोना वायरस से किसी मंत्री की मौत का पहला मामला है। अस्पताल के एक वरिष्ठ डॉक्टर के अनुसार कमल रानी को मधुमेह, उच्च रक्तचाप और हाइपर थायरॉइड जैसी बीमारियां भी थीं। वह कानपुर की घाटमपुर सीट से विधायक थी। पूर्व में वह दो बार सांसद भी रह चुकी थीं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और अन्य नेताओं ने कमल रानी के निधन पर शोक प्रकट किया। अधिकारियों ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह के दो-तीन दिन पहले कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले प्रदेश सरकार के कई मंत्री कोरोना वायरस संक्रमित पाए गए हैं।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री येदिुयरप्पा ने रविवार रात ट्वीट कर अपने संक्रमित होने की जानकारी दी और कहा कि वह सही हैं लेकिन डॉक्टरों की सलाह पर एहतियातन अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। उन्होंने ट्वीट किया, “ मेरी कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। हालांकि, मेरी तबीयत ठीक है, परन्तु डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं।” येदियुरप्पा ने बीते कुछ दिनों के दौरान अपने संपर्क में आए लोगों से भी अपना ध्यान रखने और पृथक-वास में रहने का अनुरोध किया।

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। हालांकि, मामूली संक्रमण होने के चलते उन्हें गृह पृथक-वास में रहने की सलाह दी गई है। चेन्नई के कावेरी अस्पताल ने बुलेटिन जारी कर रविवार को यह जानकारी दी। राजभवन में तीन लोगों के संक्रमित पाए जाने के बाद 80 वर्षीय पुरोहित 29 जुलाई से खुद ही पृथक-वास में चले गए थे। राज्य के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी, उपमुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम और द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन सहित अन्य नेताओं ने राज्यपाल के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। कावेरी अस्पताल की ओर से जारी बुलेटिन में कहा गया कि राज्यपाल को घर पर ही पृथक-वास में रहने की सलाह दी गई है और एक चिकित्सीय दल उनकी निगरानी करेगा। राज्यपाल रविवार को कावेरी अस्पताल में जांच के लिए पहुंचे थे।

अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डॉ अरविंदन सेल्वाराज ने बुलेटिन में कहा, ”पुरोहित कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। उनमें लक्षण नहीं हैं और संक्रमण मामूली होने के चलते उन्हें घर में पृथक-वास की सलाह दी गई है। कावेरी अस्पताल का चिकित्सकीय दल उनकी निगरानी करेगा।”

बता दें कि, पिछले सप्ताह मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। उनसे मिले राज्य के कुछ मंत्री और भाजपा नेता घरों में पृथक-वास में चले गये हैं। पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस के विधायक तमोनष घोष (60) का जून में कोरोना वायरस संक्रमण से निधन हो गया था।

अभिनेता अमिताभ बच्चन ने रविवार को कहा कि उनकी ताजा रिपोर्ट में संक्रमण से उबरने की पुष्टि हुई है और वह अस्पताल से छुट्टी के बाद अब घर में पृथक-वास में रहेंगे। हालांकि, उनके बेटे अभिषेक बच्चन ने कहा कि वह अभी संक्रमित हैं और चिकित्सा निगरानी में रहेंगे। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here