VIDEO: मुजफ्फरपुर ICU के अंदर से लाइव कर लोगों के निशाने पर आईं आजतक की एंकर अंजना ओम कश्यप

0

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (AES) यानी चमकी बुखार की वजह से 100 से ज्‍यादा बच्‍चों की मौत की खबर ने देश को झकझोर कर रख दिया है। मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री से लेकर राज्‍य के मंत्री तक सभी वहां का दौरा कर रहे हैं, लेकिन बच्‍चों की मौत का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा है। भीषण गर्मी के बीच पारा चढ़ने के साथ ही मरीजों के मरने की भी संख्या लगातार बढ़ रही है।

अंजना ओम कश्यप

मुजफ्फरपुर श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज (एसकेएमसीएच) और केजरीवाल अस्पताल में इस बीमारी से मरने वाले बच्चों की संख्या 100 हो चुकी है और करीब 300 अब भी गंभीर रूप से बीमार हैं। वहीं, दूसरे छोटे अस्पतालों में या बिना इलाज के मरे बच्चों का आंकड़ा अभी उपलब्ध नहीं है। इस बीच राजधानी दिल्ली के बड़े-बड़े टीवी एंकर वहां मौके पर पहुंचकर रिपोर्टिंग कर रहे हैं, जिस वजह से यह मामला अब काफी गंभीर हो गया है।

हालांकि, कुछ पत्रकारों की रिपोर्टिंग को लेकर सोशल मीडिया पर लोग सवाल उठा रहे हैं। समाचार चैनल आजतक की मशहूर एंकर और कार्यकारी संपादक अंजना ओम कश्यप का एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है और लोग उनकी रिपोर्टिंग पर गंभीर सवाल उठा रहे हैं। अंजना पर मुजफ्फरपुर के एक अस्पताल में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम से पीड़ित बच्चों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर को परेशान करने और अपमानित करने के आरोप लग रहे हैं।

वायरल वीडियो में अंजना मुजफ्फरपुर के एक अस्पताल के आईसीयू के अंदर से लाइव प्रसारण कर रही हैं। वीडियो में, कश्यप एक डॉक्टर पर नाराजगी व्यक्त करती हुई नजर आ रही हैं। जब उन्हें पता चलता है कि आईसीयू में मौजूद बच्चों की संख्या उपलब्ध बेड की संख्या से कहीं अधिक है, तो वह डॉक्टर पर भड़क जाती हैं। वहीं, जब डॉक्टर बच्चों के इलाज के लिए जा रहा है तब अंजना उसे जबरन रोककर सवालों की बौछार कर रही हैं।

वीडियो में डॉक्टर एक बार फिर स्ट्रेचर पर ले जाए जा रहे एक मरीज की ओर मुड़ता है, तो गुस्से में कश्यप ने एक बार फिर उसे रोकते हुए पूछा, “डॉक्टर साहब, आप कहां जा रहे हैं?… अगर मैं माइक ऑन नहीं करती है तो आप एक घंटे तक मरीज को मुड़कर नहीं देखते।” डॉक्टर कश्यप के आरोपों पर आपत्ति जताते हुए जवाब देते हैं। वह गुस्से से पूछते हैं, “आप क्या बात कर रही हैं? मैं चक्कर लगा रहा हूं। क्या मैं यहां बैठा हूं? नर्स नए रोगी को लेकर जा रही हैं।”

लोगों का कहना है कि अंजना को यही गंभीर सवाल डॉक्टरों के बजाय सरकार और उनके मंत्रियों से पूछना चाहिए।वीडियो वायरल होने के बाद कश्यप को व्यापक निंदा का सामना करना पड़ रहा है। वीडियो साझा करते हुए आजतक ने कैप्शन में लिखा है, “जब एक बच्ची के ईलाज के लिए डॉक्टर से भिड़ गई पत्रकार।”

देखें, लोगों की प्रतिक्रियाएं:

बता दें कि बिहार में एक्यूट एंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (दिमागी बुखार) से 100 से ज्यादा बच्चों की मौत के बाद मुजफ्फरपुर श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज (एसकेएमसीएच) में हालात का जायजा लेने मंगलवार को पहुंचे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। स्थानीय लोगों ने उनके खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिला प्रशासन के अनुसार, सरकारी एसकेएमसीएच और निजी केजरीवाल अस्पताल में अभी तक दिमागी बुखार से 105 बच्चों की मौत हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here