गैंगरेप के आरोप में योगी की हिंदू युवा वाहिनी के 3 नेता गिरफ्तार, थाने में किया हंगामा और दरोगा की फाड़ दी वर्दी

0

उत्तर प्रदेश के बरेली शहर के गणेशनगर में दो पक्षों में विवाद के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गठित हिंदू युवा वाहिनी के चार कार्यकर्ताओं के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। झगड़े को लेकर पैरवी करने पहुंचे भारतीय जनता(बीजेपी) और हिंदू युवा वाहिनी के नेताओं के बीच थाने में ही जमकर मारपीट हुई और एक दारोगा की कथित रूप से वर्दी फाड़ दी गई।

फोटो साभार: जनसत्ता

पुलिस उपाधीक्षक (नगर) रोहित सिंह सजवाण ने मंगलवार(27 जून) को बताया कि गणेशनगर निवासी दीपक नामक युवक कल अपने घर में तेज आवाज में संगीत बजा रहा था। दूसरे पक्ष के अविनाश ने अपनी मां के बीमार होने का हवाला देते दीपक से आपत्ति दर्ज कराई। इसे लेकर दोनों के बीच कहासुनी हुई।

उन्होंने बताया कि झगड़े के बाद दीपक ने संगीत बंद कर दिया। आरोप है कि देर शाम अविनाश हिंदू युवा वाहिनी के अपने दो साथियों के साथ दीपक के घर में घुसा और उसकी गैर मौजूदगी में महिलाओं से बदसलूकी की। महिलाओं ने दीपक को सूचना दी तो वह भाई गौरव के साथ घर पहुंचा मगर तब तक आरोपी जा चुके थे।

पीटीआई के मुताबिक, सजवाण ने बताया कि दीपक और गौरव ने बाद में अविनाश को पकड़ लिया और पिटाई करने के बाद पुलिस को सौंप दिया। इंस्पेक्टर मुकेश कुमार जब अविनाश को लेकर थाने पहुंचे तभी हिंदू युवा वाहिनी के मंडल अध्यक्ष जितेंद्र शर्मा और महानगर अध्यक्ष पंकज पाठक समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता थाने पहुंच गए।

उन्होंने बताया कि वाहिनी कार्यकर्ताओं ने अविनाश की गिरफ्तारी पर जमकर हंगामा किया। इसी बीच, दूसरे पक्ष की पैरवी करने के लिये बीजेपी के महानगर अध्यक्ष उमेश कठेरिया थाने पहुंचे। इस पर वाहिनी के नेताओं ने उनसे कथित रूप से अभद्रता की। इसके बाद दोनों पार्टियों के नेताओं में विवाद बढ़ गया और पुलिस अफसरों की मौजूदगी में दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई।

सजवाण ने बताया कि वाहिनी कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर भी हमला किया। सुभाषनगर चौकी प्रभारी मयंक अरोड़ा ने अपनी वर्दी फाड़े जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने बताया कि दारोगा की तहरीर पर हिंदू युवा वाहिनी के मण्डल अध्यक्ष जितेन्द्र शर्मा, महानगर अध्यक्ष पंकज पाठक और अविनाश उर्फ अंशू के खिलाफ मारपीट का तथा एक महिला की तहरीर पर इन तीनों तथा अनिल सक्सेना नामक एक अन्य वाहिनी कार्यकर्ता के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

जितेन्द्र, पंकज और अविनाश को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। गणेशनगर इलाके में एहतियातन पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है। बता दें कि हिंदू युवा वाहिनी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा गठित संगठन है।

बता दें कि यह घटना ऐसे वक्त हुई है जब योगी सरकार अपने 100 दिन के कार्यकाल की उपलब्धियां बताने की तैयारियों में जुटी थी। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। पुलिस ने एहतियातन इलाके में अतिरिक्त सुरक्षा बल की तैनाती कर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here