मोदी सरकार के 3 सालों में राजद्रोह के मामलों में 165 लोगों की हुई गिरफ्तारी

0

केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद पिछले 3 सालों में देश के विभिन्न इलाकों से राजद्रोह के मामलों में 165 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। जी हां, गृह राज्य मंत्री हंसराज अहीर ने बुधवार(19 जुलाई) को राज्य सभा में एक सवाल के जवाब में यह जानकारी दी।

(HT File Photo)

राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के आंकड़ों के हवाले से अहीर ने कहा कि साल 2014 में राजद्रोह के 47 मामलों में 58 लोग, साल 2015 में दर्ज किए गए राजद्रोह के 30 मामलों में 73 और साल 2016 में 28 मामलों में 34 लोग गिरफ्तार किए गए।

मंत्री ने स्पष्ट किया कि साल 2016 के आंकड़ों में उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के आंकड़े शामिल नहीं हैं, क्योंकि इन दोनों राज्यों ने ये आंकड़े उपलब्ध नहीं कराए। अहीर ने बताया कि राजद्रोह के मामलों में गिरफ्तार किए गए लोगों के नाम और मामलों की मौजूदा स्थिति का रेकॉर्ड अभी एनसीआरबी ने दर्ज नहीं किया है। इसके अलावा साल 2017 के आंकड़े भी एनसीआरबी द्वारा अभी दर्ज किए जा रहे हैं।

बता दें कि पिछले महीने 18 जून को चैम्पियंस ट्रॉफ़ी में पाकिस्तान-भारत मैच में पाकिस्तान की जीत के बाद मध्य प्रदेश के बुरहानपुर जिले के मोहाद गांव में कथित रूप से जश्न मनाने और पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के आरोप में 15 लोगों पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज किया था, हालांकि हंगामा बढ़ने के बाद 22 जून को सबूतों के अभाव में सभी आरोपियों पर से राजद्रोह का मुकदमा को हटा लिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here