एक दिन में दूसरा रेल हादसा, ओडिशा में कोयला ले जा रही मालगाड़ी के 14 डिब्बे पटरी से उतरे

0

देश में ट्रेनों का पटरी से उतरने का सिलसिला थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। अभी यूपी के चित्रकूट के पास वास्को द गामा-पटना एक्सप्रेस ट्रेन हादसे के 12 घंटे भी नहीं बीते की अब देश में एक और बड़ा ट्रेन हादसा हो गया।

ओडिशा
फोेटो- ANI
समाचार एजेंसी ANI की ख़बर के मुताबिक, यूपी के बाद ओडिशा में आज सुबह गोरखनाथ और रघुनाथपुर के बीच पारादीप-कटक मालगाड़ी की 14 बोगियां पटरी से उतर गई। अधिकारियों ने बताया कि घटना सुबह करीब पांच बजकर 55 मिनट पर हुई थी। पूर्वी तटीय रेलवे के प्रवक्ता जे पी मिश्रा ने न्यूज़ एजेंसी (पीटीआई) भाषा को बताया कि घटना में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।
उन्होंने बताया कि मालगाड़ी पारादीप से कोयला ले कर कटक जा रही थी कि तभी कटक से 45 किलोमीटर और पारादीप से 38 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बनबिहारी ग्वालिपुर पीएच रेलवे स्टेशन के निकट डाउन लाइन पर मालगाड़ी के करीब 14 खुले डिब्बे पटरी से उतर गए।

सबसे पहले गार्ड ने नजदीकी स्टेशन को इसकी सूचना दी जिसके बाद नियंत्रण कक्ष को तत्काल सूचित किया गया और फिर राहत ट्रेनों एवं क्रेन को तैनात किया गया। महा प्रबंधक उमेश सिंह ने खुर्दा रोड़ डिविजन को जांच समिति गठित करने और विस्तृत रिपोर्ट पेश करने के आदेश दिए हैं।

बता दें कि, इससे पहले आज यानी शुक्रवार सुबह को ही वास्को द गामा-पटना एक्सप्रेस ट्रेन यूपी के चित्रकूट के पास हादसे का शिकार हो गई, ट्रेन की 13 बोगियां अचानक पटरी से उतर गए। इस ट्रेन हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई और नौ घायल हो गए थे। हादसे में घायल सभी लोगों को इलाज के लिए पास के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।

गौरतलब है कि इस वर्ष अगस्त में उत्तर प्रदेश में ही कलिंगउत्कल एक्सप्रेस के डिब्बे पटरी से उतरने के कारण 23 यात्रियों की मौत हो गयी थी जबकि 150 अन्य घायल हो गये थे। यह हादसा मुजफ्फरनगर के निकट हुआ था। उस दौरान कुछ ही दिनों के भीतर कई ट्रेन हादसे हुए थे जिसके बाद रेल मंत्रालय की कमान सुरेश प्रभु से लेकर पीयूष गोयल को सौंपी गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here