आचार संहिता लागू होने के कुछ घंटे पहले ही योगी सरकार ने की राजू श्रीवास्तव सहित 72 लोगों की नियुक्तियां, रेवड़ियों की तरह बांटे मलाईदार पद

0

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार (10 मार्च) को चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए बताया कि आम चुनाव का कार्यक्रम घोषित होने के साथ ही देश में चुनाव आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है। लेकिन चुनाव आयोग द्वारा आम चुनाव की घोषणा के बाद देश भर में आचार संहिता लागू होने के कुछ घंटे पहले ही बड़ा चुनावी दाव खेलते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को राज्य सरकार के विभिन्न बोर्ड एवं आयोग के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों के नामों को मंजूरी दे दी। परियोजनाओं के ताबड़तोड़ शिलान्यास और लोकार्पणों के बाद अधिसूचना जारी होने से कुछ देर पहले योगी सरकार ने भारी-भरकम सूची जारी करते हुए 72 लोगों को कैबिनेट और राज्य मंत्री का दर्जा दिया है।

इसमें योगी सरकार ने सभी जातियों को साधने की कोशिश की है। योगी सरकार ने आदित्यनाथ ने पिछले लोकसभा चुनावों के दौरान बीजेपी में शामिल हुए हास्य कलाकार राजू श्रीवास्तव को फिल्म विकास निगम का अध्यक्ष नियुक्त किया है। राजू श्रीवास्तव सहित कुछ 72 लोगों को योगी सरकार द्वारा रेवड़ियों की तरह अलग-अलग मंत्रालयों में मलाईदार पद बांटे गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अचानक लंबी सूची जारी कर क्षेत्रीय और जातीय संतुलन का ध्यान रखते हुए बीजेपी के कई नए-पुराने कार्यकर्ताओं सहित सहयोगी दलों के लोगों को निगम, परिषद व आयोग में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्य बनाकर उपकृत किया है।

इस सूची में पिछले कुछ दिनों नाराज चल रहीं अपना दल की अनुप्रिया पटेल के करीबी लोगों और सुहेलदेव राजभर भारतीय समाज पार्टी के नेता ओमप्रकाश राजभर का भी दबदबा नजर आया है। राजभर के परिवार के अरविंद राजभर, सुदामा राजभर और पार्टी प्रवक्ता राणा अजीत सिंह को मंत्री का तोहफा दिया गया है। अनुप्रिया पटेल को भी मनाने की कोशिश की गई है। 72 लोगों की इस सूची में गैर- यादव पिछड़ों पर विशेष अनुकंपा की गई है, वहीं गैर-जाटव दलितों में वाल्मीकि समाज के सात लोगों को राज्य सफाई कर्मचारी आयोग का सदस्य बनाया गया है।

उत्तर प्रदेश आवास एवं विकास परिषद में राम लखन पटेल व अश्विनी त्रिपाठी को भी उपाध्यक्ष नामित किया गया है। लाल बहादुर शास्त्री गन्ना किसान संस्थान में नवाब सिंह नागर गौतमबुद्धनगर को अध्यक्ष व नीरज शाही देवरिया को उपाध्यक्ष बनाया गया है। उत्तर प्रदेश मत्स्य विकास निगम में रमाकांत निषाद को अध्यक्ष नामित किया गया है। राजू श्रीवास्तव को फिल्म विकास परिषद का अध्यक्ष बनाया गया है। जबकि पार्टी के लिए काफी समय से काम कर रहे कई कलाकारों को प्रयाग स्थित हिंदुस्तानी अकादमी का सदस्य बनाया गया है।

11 अप्रैल से 19 मई तक होंगे लोकसभा चुनाव

बता दें कि चुनाव आयोग ने 17वीं लोकसभा का चुनाव सात चरण में, 11 अप्रैल से 19 मई के बीच कराने का फैसला किया है। सातों चरण के मतदान के बाद 23 मई को मतगणना होगी। मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार को चुनाव कार्यक्रम घोषित करते हुए बताया कि आगामी लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए 11 अप्रैल को होने वाले मतदान की अधिसूचना 18 मार्च को जारी की जाएगी। उल्लेखनीय है कि 2014 में 16वीं लोकसभा का चुनाव नौ चरण में कराया गया था।

अरोड़ा ने बताया कि आम चुनाव का कार्यक्रम घोषित होने के साथ ही देश में चुनाव आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गई है। अरोड़ा ने चुनाव आयुक्तों अशोक लवासा और सुशील चंद्रा के साथ संवाददाता सम्मेलन में बताया कि दूसरे चरण का मतदान 18 अप्रैल, तीसरे चरण का मतदान 23 अप्रैल, चौथे चरण का मतदान 29 अप्रैल, पांचवें चरण का मतदान छह मई, छठवें चरण का मतदान 12 मई और सातवें चरण का मतदान 19 मई को होगा। अरोड़ा ने बताया कि 23 मई को मतगणना के आधार पर चुनाव परिणाम घोषित होगा। समूची चुनाव प्रक्रिया 27 मई को सम्पन्न करने का लक्ष्य तय किया गया है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here