पूर्व धुरंधर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को खेल मंत्रालय ने सौंपी बड़ी जिम्मेदारी

0

कोच पद की रेस में पिछड़ने के बाद टीम इंडिया के पूर्व धुरंधर बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग को सरकार ने बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। खेल मंत्रालय ने इस साल के राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड और अर्जुन अवॉर्ड विजेताओं को चुनने के लिए जो समिति बनाई है, उसमें वीरेंद्र सहवाग और पूर्व एथलीट पीटी उषा को जगह दी गई है।

फाइल फोटो: PTI

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज सहवाग को इस साल खेल रत्न और अजरुन पुरस्कार के चयन के लिए गठित 12 सदस्यीय समिति में शामिल किया गया है। इस समिति में महान धाविका पीटी ऊषा को भी जगह दी गई है। न्यायमूर्ति (सेवानिवृत) सीके ठक्कर इस समिति के अध्यक्ष होंगे।

इस वर्ष के पुरस्कार विजेताओं के चयन के लिए समिति 3 अगस्त को बैठक करेगी। द्रोणाचार्य अवॉर्ड और ध्यानचंद पुरस्कार को लेकर गठित समिति में पूर्व बैडमिंटन खिलाड़ी पुलैला गोपीचंद और स्टार स्नूकर और बिलियर्डस खिलाड़ी पंकज आडवाणी को शामिल किया गया है।

समिति के अन्य सदस्यों में मुकुंद किलेकर (मुक्केबाजी), सुनील डबास (कबड्डी), लता माधवी (पैरा एथलीट), अनिल खन्ना (खेल प्रशासक), इंजेती श्रीनिवास (महानिदेशक साई), राजवीर सिंह (संयुक्त सचिव खेल मंत्रलय), एम आर मिश्र (पत्रकार), एस कन्नन (पत्रकार) और संजीव कुमार (पत्रकार) शामिल हैं।

बता दें कि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार देश का सर्वोच्च खेल सम्मान है। ये चार वर्षों के दौरान अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सर्वोत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी को प्रदान किया जाता है। इसके अंतर्गत विजेता को पदक, समारोह का औपचारिक परिधान, प्रमाण-पत्र और 7.5 लाख रुपए का पुरस्कार शामिल है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here