#MeToo के लपेटे में आए केंद्रीय मंत्री एम जे अकबर ने किया अदालत का रुख, पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ किया मानहानि का मुकदमा

0

‘मी टू’ अभियान के तहत यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने उनके ऊपर यौन दुराचार के आरोप लगाने वाली पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ सोमवार (15 अक्टूबर) को दिल्ली की एक अदालत में आपराधिक मानहानि की निजी शिकायत दायर की।

एम जे अकबर
फाइल फोटो

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री बने एम जे अकबर ने प्रिया रमानी पर ‘जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण तरीके से’ उनकी मानहानि करने का आरोप लगाया और इसके लिए पत्रकार के खिलाफ मानहानि से जुड़ी आईपीसी की धारा के तहत मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

बता दें कि दुनिया भर में यौन शोषण के खिलाफ शुरू हुए ‘मी टू’ अभियान के तहत करीब 9 महिला पत्रकारों ने पूर्व संपादक से केंद्रीय मंत्री बने एमजे अकबर यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए हैं। इन महिला पत्रकारों में एक विदेश महिला पत्रकार भी शामिल हैं।

बता दें कि ‘मी टू’ अभियान के तहत यौन उत्पीड़न के आरोपों से घिरे केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने रविवार (14 अक्टूबर) को पहली बार अपनी चुप्पी तोड़ी थी। केंद्रीय मंत्री ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को गलत और बेबुनियाद बताया था। उन्होंने कहा था कि आरोप लगाने वालों पर कानूनी कार्रवाई करूंगा।

गौरतलब है कि देश भर में चल रहे ‘मी टू’ अभियान के तहत हर रोज चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। आग की तरह फैल रही ‘मीटू’ मुहिम की लपटें एमजे अकबर तक पहुंच गई है। इसके बाद विपक्षी दल जोर-शोर से उनके इस्तीफे की मांग कर रहे थे। फिर रविवार को अकबर ने खुद सामने आकर सफाई दी थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here